समस्तीपुर। दलसिंहसराय थाना गेट पर मंगलवार को उस समय अजीबोगरीब स्थिति हो गई जब किन्नरों के दो गुट एक साथ सड़क पर आपस में उलझ गए और नंग-धड़ंग हंगामा करने लगे। सड़क से गुजर रहे राहगीर शर्म से पानी- पानी हो गए। इतना ही नही वहां से गुजर रही महिलाएं भी अपनी नजरें ओझल करते हुए आगे निकल गई। घंटों हुई किन्नरों के नंग-धरंग प्रदर्शन के बीच स्थानीय पुलिस मूक दर्शक बनी रही। हालांकि महिला दारोगा रीना झा, शैलेंद्र सिंह और शिव कुमार त्रिपाठी की पहल के बाद किन्नर थाना गेट से हटकर अपने-अपने ठिकाने को चले गए। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से किन्नरों के दो गुटों में क्षेत्राधिकार को लेकर दलसिंहसराय में विवाद हुआ था। जिसको लेकर मंगलवार को दोनों गुटों से मुखियों के बीच विवाद को सुलझाने को लेकर महापंचायत चल रही थी। इसमें वैशाली, दरभंगा, समस्तीपुर, बरौनी से दर्जनों की संख्या में किन्नर जुटे थे। इसी दौरान दोनों गुट आपस में उलझ गए। इधर, घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत करते हुए दोनों पक्षों को आवेदन देने के लिए थाना बुलाया। जिसके बाद दोनों गुटों ने आवेदन दिया। इसी दौरान फिर थाना गेट पर दोनों गुट एक-दूसरे से भिड़ गए और थाना गेट पर ही हंगामा करने लगे। इस दौरान किन्नरों ने बीच सड़क पर थाना चौक के पास नंग-धरंग प्रदर्शन करने लगे। जिससे स्थानीय लोग भी शर्म से पानी-पानी हो गये। पुलिस बीच- बचाव करने लगी। लेकिन किन्नर बात सुनने को तैयार नही थे। इसके बाद किन्नरों के मुखिया सपना किन्नर के पहुंचने के बाद मामले को शांत कराया गया।

Edited By: Jagran