समस्तीपुर । सरायरंजन थाना क्षेत्र के झखड़ा गांव में 7 जून को जदयू जिलाध्यक्ष के भाई सह सीएसपी संचालक सुनील कुमार की गोली मारकर हत्या व लूट मामले में गठित एसआइटी ने एक सीएसपी संचालक व दो शूटर समेत पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया है। उसके पास एक चोरी की बाइक, तीन मोबाइल व 5 हजार 5 सौ नकद बरामद हुए हैं। गिरफ्तार आरोपित की पहचान उजियारपुर थाना के चांदचौर डीह निवासी ब्रज भूषण चौधरी के पुत्र शुभम चौधरी और राजेश चौधरी उर्फ शम्मी, शंभू झा के पुत्र रामलाल झा और आनंद मोहन झा उर्फ मोहन झा, झखड़ा गांव के रामसगुन झा के पुत्र प्रदीप कुमार झा के रुप में हुई है। शनिवार को सदर अनुमंडल पुलिस कार्यालय में डीएसपी प्रीतिश कुमार ने मामले का पर्दाफाश किया। उन्होंने बताया कि करीब छह माह पूर्व घटना की साजिश रची गई थी। साजिशकर्ता उस गांव का प्रदीप कुमार झा है। वह सीएसपी संचालक है। उसने गांव में ही दो बैंकों का ग्राहक सेवा केंद्र खोल रखा है। उसका ममेरा भाई चांदचौर डीह गांव का रामलाल झा भी इस घटना में संलिप्त है। करीब एक साल से वह अपने ननिहाल में था। अपराधियों से उसकी सांठगांठ थी। वहीं आनंद मोहन झा और शुभम कुमार चौधरी को घटना में शूटर के तौर पर इस्तेमाल किया गया। सीएसपी संचालक की हत्या के बाद सभी आरोपित फरार हो गए। शुभम और आनंद मोहन ने कोलकाता में ठिकाना बना लिया। लूट की रकम से कलकत्ता में एयाशी कर रहा था। डीएसपी ने बताया कि इस घटना को अंजाम देने में एक दर्जन बदमाशों की संलिप्तता उजागर हुई है। हलांकि, 16 जून को एसआइटी व डीआइयू की टीम ने चार आरोपितों को गिरफ्तार किया था। उसकी निशानदेही पर अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी हुई। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपित एक संगठित गिरोह का सदस्य है। शुभम चौधरी व आनंद मोहन झा का पूर्व से भी आपराधिक इतिहास रहा है। एक दर्जन से अधिक कांडों में वह वांछित है। हत्या व लूट की घटना को अंजाम देने के बाद दोनों आरोपितों ने 12 व 13 जुलाई को उजियारपुर थाना क्षेत्र में दो बाइक लूट की घटना को अंजाम दिया था। पूछताछ में आरोपितों ने घटना में संलिप्तता स्वीकार की है। बता दें कि सरायरंजन थाना क्षेत्र के वाजितपुर निवासी मृतक सुनील कुमार सेंट्रल बैंक आफ इंडिया के सीएसपी संचालक थे। पिछले 7 जून को बाइक सवार बदमाशों ने गांव के निकट ही उसकी गोली मारकर हत्या कर दी और 3 लाख 60 हजार रुपये लूट लिए। घटना उस वक्त हुई, जब सुनील बैंक से रुपये लेकर सीएसपी केंद्र की ओर से जा रहे थे। इसी बीच घात लगाए बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया।

Edited By: Jagran