समस्तीपुर । उजियारपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित ई-किसान भवन परिसर में जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत चयनित लाभुकों के बीच शनिवार को वाहनों का वितरण किया। आयोजित इस वाहन वितरण शिविर में चयनित कुल 160 लोगों के बीच इस योजना का लाभ दिया गया। इनमें से 30 लोगों के बीच जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने वाहन की चाबी सौंपी। वहीं वितरित किए गए सभी वाहनों को अनुमंडलाधिकारी दलसिंहसराय ज्ञानेंद्र कुमार, एएसडीओ अनिल कुमार तथा बीडीओ विजय कुमार ठाकुर ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर डीएम ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग के युवाओं के उत्थान के लिए यह योजना शुरू की गई है। योजना के तहत ऐसे युवाओं को वाहन खरीद पर अधिकतम एक लाख रुपये अनुदान राशि सरकार द्वारा दिए जाने का प्रावधान है। जिसमें जिले के प्रत्येक पंचायत में से 7 लाभुकों का चयन कर इस योजना का लाभ देना है। जिसमें से 4 लाभुक अनुसूचित जाति जनजाति तथा 3 लाभुक अति पिछड़ा वर्ग से लिया जाना है। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि इस योजना से न सिर्फ गांव के युवाओं को रोजगार प्राप्त होगा, बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में यातायात की सुविधा भी बेहतर होगी। लाभुकों को चाबी प्रदान करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि इस प्रकार वाहन का परिचालन सुनिश्चित करना है जिससे ऋण की राशि किसी के लिए बोझ न बने। डीएम ने बीडीओ को निर्देश देते हुए कहा कि वाहन की खरीदारी में किसी भी बेरोजगार युवाओं को कोई परेशानी न हो। क्योंकि जब तक युवाओं की आमदनी में वृद्धि नहीं होगी तब तक वह खुशहाल नहीं हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग जो अब तक इस योजना से नहीं जुड़ पाए हैं, उन्हें भी आवेदन देकर इस योजना का लाभ उठाने के लिए प्रेरित करें। वहीं इस योजना का लाभ उठाने वाले लोग गाड़ी की चाबी पाकर काफी खुश नजर आ रहे थे। इस मौके पर एसडीओ ज्ञानेंद्र कुमार, सीओ संजय कुमार महतो, समाजसेवी नवीन कुमार झा, प्रमुख रिकी कुमारी, पंस सदस्य पवन कुमार सिंह के अलावा कार्यालय के सभी कर्मी मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप