समस्तीपुर, जागरण टीम। समस्तीपुर-हसनपुर रेलखंड के अंगारघाट रेलवे स्टेशन से हुई लूट के मामले में दो प्राथमिकी दर्ज की गई है। पीड़ित के बयान पर राजकीय रेल थाना और सिगनल विभाग द्वारा आरपीएफ पोस्ट में मामला दर्ज कराया गया है। आरपीएफ और जीआरपी द्वारा प्राथमिकी दर्ज किए जाने के साथ ही छानबीन की जा रही है। लूटपाट करने वाले बदमाशों का 48 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं मिल पाया है। घटना के बाद अंगारघाट रेलवे स्टेशन पर एक आरपीएफ जवान को सुरक्षा के लिए दिन-रात मुस्तैद कर दिया गया है।

पुलिस लूटी गई टेलीफोन, मोबाइल तथा बदमाशों की खोज कर रही है। घटना के समय कार्यरत सहायक स्टेशन अधीक्षक से लूटी गई मोबाइल को सर्विलांस पर रखा गया है। स्टेशन अधीक्षक प्रमोद कुमार ने बताया कि विभागीय स्तर पर जांच चल रही है। अंगारघाट स्टेशन पर सहायक स्टेशन अधीक्षक से लूटपाट मामले में सिग्नल विभाग ने भी मंगलवार को आरपीएफ पोस्ट में प्राथमिकी दर्ज कराई। सिग्नल विभाग के एमसीएम ने लिखित आवेदन में बताया कि स्टेशन अधीक्षक द्वारा मेमो देकर घटना की जानकारी दी गई। इसमें बताया कि ट्रेन संख्या 05549 सहरसा-समस्तीपुर सवारी गाड़ी स्टेशन से परिचालित होने के बाद तीन बदमाश पहुंचे। साथ ही तीन मेगाफोन लूटकर चले गए। इसमें दो टेलीफोन कार्यरत व तीसरा स्टैंड बाई में रखा गया था। जिसकी अनुमानित कीमत 6 हजार रुपये बताई गई। आरपीएफ ने भी अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया है। 

Edited By: Mohammed Ammar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट