समस्तीपुर। आतंकी हमले की आशंका के मद्देनजर जारी अलर्ट के बीच आरपीएफ और जीआरपी की संयुक्त टीम ने मंगलवार को जंक्शन परिसर में सघन तलाशी अभियान चलाया। मंडल सुरक्षा आयुक्त एके लाल और रेल पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह के निर्देश पर सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त रखने को लेकर टीम चौकस रही। आरपीएफ इंस्पेक्टर मो. आलम अंसारी और जीआरपी थानाध्यक्ष नंद किशोर सिंह के नेतृत्व में जंक्शन से गुजरने वाली विभिन्न ट्रेनों में जांच की। टीम ने डाग स्क्वायड को लेकर जंक्शन पर ट्रेन संख्या 02565 बिहार संपर्क क्रांति, ट्रेन संख्या 02553 वैशाली एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 04649 शहीद एक्सप्रेस में सघन तलाशी ली। इसके अलावा विभिन्न प्लेटफॉर्म, सर्कुलेटिग एरिया, कार पार्किंग, प्रतीक्षालय एवं आने-जाने वाले यात्रियों व उनके सामानों की जांच की। हालांकि कोई भी प्रतिबंधित वस्तु ज्वलनशील पदार्थ अथवा विस्फोटक पदार्थ इत्यादि नहीं पाया गया। नशाखुरानी एवं कोरोना महामारी से बचाव के लिए भी चलाई जागरूकता:

पुलिस का लाव लश्कर देख यात्रियों में भी हड़कंप मचा रहा। इस दौरान यात्रियों के बीच हेल्प लाइन संख्या 139 का प्रचार प्रसार करते हुए नशाखुरानी एवं कोरोना महामारी से बचाव के लिए जागरूकता अभियान भी चलाया गया। पुरुष यात्रियों को महिला बोगी और सामान्य यात्रियों को दिव्यांग बोगी में सफर नहीं करने, ट्रेन में अथवा रेलवे स्टेशन सामान छूटने, रेल यात्रा के दौरान चिकित्सकीय सहायता की जरूरत पड़ने, सहयात्री द्वारा यात्रा के दौरान परेशान अथवा अभद्र व्यवहार करने पर रेलवे सुरक्षा बल की सहायता प्राप्त करने की अपील की गई। यात्रियों को जहरखुरानों व संदिग्ध से सतर्क रहने की अपील की गई। किसी भी प्रकार की असुरक्षा की स्थिति सामने आने पर तत्काल आरपीएफ की हेल्पलाइन नंबर पर सूचित करने को कहा गया। वहीं यह भी बताया गया कि यदि किसी व्यक्ति की हरकतें संदिग्ध नजर आती हैं तो इसकी सूचना ट्रेन में मौजूद रेलवे के स्टाफ और सुरक्षा बलों को दें।

Edited By: Jagran