सहरसा। पूर्व-मध्य रेल सहरसा के तीनों रेलखंडों में इस वर्ष के अंत तक रेल विद्युतीकरण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद सभी रेलखंड पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का परिचालन होने लगेगा। विभाग ने सहरसा के तीनों रेलखंडों में रेल विद्युतीकरण कार्य पूरा करने के लिए लक्ष्य तय कर दिया है।

----

ईंधन की होगी बचत, पर्यावरण होगा संरक्षित

----

वर्तमान में दो रेलखंड पर डीजल इंजन का परिचालन हो रहा है। इलेक्ट्रिक इंजन का परिचालन शुरू होने से रेलवे को ईंधन की बचत होगी। वहीं पर्यावरण प्रदूषण भी कम हो जाएगा। वर्तमान में सहरसा - फारबिसगंज रेल खंड के बीच राघोपुर तक ट्रेन का परिचालन शुरू हो गया है जबकि इस खेलखंड में विद्युतीकरण कार्य भी चल रहा है। पहले चरण में सरायगढ़ तक रेल विद्युतीकरण कार्य पूरा किया जाएगा। इसके बाद सरायगढ़ से फारबिसगंज के बीच करीब 60 किमी रेल विद्युतीकरण का कार्य पूरा किया जाएगा।

------------------------

मधेपुरा- पूर्णिया कोर्ट के बीच चल रहा विद्युतीकरण कार्य

-----

पूर्व मध्य रेल सहरसा-पूर्णिया के बीच मधेपुरा-पूर्णिया कोर्ट के बीच करीब 78 किमी तक रेल विद्युतीकरण कार्य शुरू कर दिया गया है। इस निर्माण कार्य पर 70 लाख रुपये खर्च होंगे। पहले चरण में मधेपुरा से पूर्णिया के बीच फाउंडेशन का काम शुरू कर दिया गया है। अक्टूबर 21 तक इसे पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित है।

----------------------

कोट

सहरसा-सरायगढ़ एवं मधेपुरा- पूर्णिया कोर्ट के बीच रेल विद्युतीकरण कार्य चल रहा है। इस वर्ष के अंत तक सहरसा के दोनों रेलखंडों में रेल विद्युतीकरण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

अशोक माहेश्वरी, मंडल रेल प्रबंधक, पूर्व मध्य रेल

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021