सहरसा। पूर्व मध्य रेल सहरसा स्टेशन पर रेल सुरक्षा बल के अधिकारियों ने जागरूकता अभियान चलाया। रविवार को जागरूकता अभियान के दौरान आरपीएफ पोस्ट कमांडर सारनाथ ने यात्रियों से ट्रेनों व प्लेटफार्म पर जहरखुरानी गिरोह से सावधान रहने की अपील की।

उन्होंने यात्रियों से कहा कि किसी अनजान आदमी से मेलजोल न बढाएं और न ही किसी अनजान यात्री से किसी तरह की खाद्य सामग्री लें। जहरखुरानी गिरोह यात्रियों से मेल-जोल बढ़ाकर व क्षेत्रीय भाषा में बोलकर संपर्क बढ़ाता है और रास्ते में यात्रा के दौरान जहरीला पदार्थ खिलाकर उसका सारा सामान लूट लेता है। इसीलिए ऐसे तत्वों से बचिए। ट्रेन में यात्रा के दौरान कोई संदिग्ध व्यक्ति मिले तो उसकी सूचना तुरंत रेल पुलिस या आरपीएफ को दें। जिससे समय रहते किसी अनहोनी से बचा जा सके। उन्होंने यात्री हेल्प लाइन 182 नंबर पर किसी प्रकार की परेशानी होने पर फोन करें। अगले स्टेशन पर पीड़ित यात्री को सुविधा मिल जाएगी। यात्रियों के बीच इससे संबंधित पम्पलेट वितरित किया गया। साथ ही यात्रियों को लाउडस्पीकर के माध्यम से एसीपी एवं भीडी से रेल को होनेवाली नुकसान को बताया। आरपीएफ इंस्पेक्टर सारनाथ ने ट्रेनों में बाल सुरक्षा, महिला सुरक्षा का प्रचार प्रसार किया गया। पोस्ट कमांडर सारनाथ के नेतृत्व में चलाए गए जागरूकता अभियान में प्रधान आरक्षी अशोक पासवान, आरक्षी संजय बोस आदि शामिल थे।

-------------------

न्यायिक हिरासत में भेजे गए 6 व्यक्ति

सहरसा स्टेशन पर आरपीएफ इंस्पेक्टर सारनाथ के नेतृत्व में प्लेटफार्म नंबर दो पर आयी 55566 पैसेंजर ट्रेन के महिला कोच में अनाधिकृत रूप से सफर कर रहे छह लोगों को पकड़ा गया । जिसके विरूद्ध मामला दर्ज कर सभी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Posted By: Jagran