सहरसा। सलखुआ थाना क्षेत्र के चिड़ैया ओपी अंतर्गत बगुलबा टोल के समीप मंगलवार की शाम जोरदार आंधी-तूफान के साथ बारिश में लोगों से भरी नाव पलट गई। इसमें सवार 14 लोग थे। जिसमें पांच लापता हैं। लापता लोगों में दो का शव बुधवार को बरामद कर किया गया है जबकि एक का शव मंगलवार को ही बरामद कर लिया गया था। एसडीआरएफ की टीम तलाशी अभियान में जुटी हुई है। सिमरी बख्तियारपुर के एसडीओ बुधवार को खुद घटनास्थल पर मौजूद थे।

ग्रामीणों के अनुसार, करीब तीन बजे शाम में सहुरी गांव के लोग हाट-बाजार करने चिड़ैया आये थे। करीब छह बजे शाम में सभी चढ़कर वापस सहुरी गांव जा रहे थे। इसी बीच नाव बगुलबा टोल से करीब पांच सौ मीटर दूर आगे बढ़ा ही था कि जोरदार आंधी-तूफान के साथ बारिश में फंस कर नाव डूब गई।

---

अलानी पंचायत के सरपंच की बेटी, दामाद व नाती भी डूबे

---

नाव पर हाट-बाजार करने आये ग्रामीणों के साथ अलानी सरपंच सीता देवी की बेटी, दामाद और नाती भी सवार थे। सरपंच की बेटी अपने पति व बच्चों के साथ सोमवार को रक्षाबंधन के अवसर पर चिड़ैया आये थे। मंगलवार को गांव से नाव आने के बाद उसी पर चढ़ वापस सभी सहुरी गांव जा रहे थे। नाव हादसे में सरपंच की बेटी, दामाद और नाती भी लापता हो गए। मंगलवार की शाम सरपंच के नाती शिवम कुमार (तीन वर्ष) का शव बरामद कर लिया गया। जबकि बुधवार को सरपंच के दामाद संजीत चौधरी

(28 वर्ष) और मुकेश चौधरी की बेटी शोभा कुमार (चौदह वर्ष) का शव बरामद किया गया।

----

पूर्व मुखिया व ग्रामीणों ने किया बचाव

--

नाव दुर्घटना में डूबे लोगों को जिदा निकालने में अलानी पंचायत के पूर्व मुखिया बगुलबा टोल निवासी राजेन्द्र राम और इसके परिवार के सदस्यों के मुख्य भूमिका रही। चूंकि नाव इन्हीं के घर के पास लगी थी। नाव डूबने के साथ हल्ला होने पर ट्रैक्टर के ट्यूब में हवा भरकर पानी में कूद तैरकर नौ को जिदा और एक मृत बच्चे को निकाला। बताया जाता है कि बगुलबा टोल के समीप नवनिर्मित पुल दो दिनों पूर्व ही बाढ़ के पानी की तेजधारा मे टूटकर बह गया था। जिसके कारण पानी में करंट ज्यादा चलने लगी थी। उक्त पानी निचले इलाके के गड्ढे व खेत-खलिहान के साथ बहियार का नाला बाढ़ के पानी से भर गया है। उसी होकर नाव जा रही थी कि आंधी तूफान के बीच मूसलाधार बारिश में फंस कर नाव पलट गई।

---

दो हैं लापता

---

घटना की सूचना पर अनुमंडल पदाधिकारी वीरेंद्र कुमार अपने नेतृत्व में एसडीआरएफ की टीम लेकर मौके पर पहुंचे तथा पहुंचकर दो शव को बरामद किया। इस हादसे में डूबी सरपंच की बेटी रजनी देवी व गब्बर चौधरी के चार माह का बच्चा प्रेम अब भी लापता है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस