सहरसा: गंगजला निवासी आरके सिंह ने कहा कि उत्पाद विभाग द्वारा जहां से शराब की बरामदगी की गई है वह जमीन उनकी नहीं है। उस जमीन को वो काफी पहले बेच चुके हैं। उत्पाद अधीक्षक को दिए आवेदन में उन्होंने कहा है कि उनके नाम की चर्चा की गई और प्राथमिकी दर्ज करने की बात समाचार पत्र के माध्यम से पता चला। जबकि वो उक्त जमीन को काफी पहले बेच चुके हैं और उस कैंपस से उन्हें कोई लेना-देना नहीं है और न ही मेरा कोई संबंध है। उन्होंने कहा है कि वो एसबीआइ के सेवानिवृत पदाधिकारी हैं और वर्तमान में मेडिकल कॉलेज, पारा मेडिकल कॉलेज का संचालन कर रहे हैं। उन्होंने जांच कर मामले में उनकी चर्चा तक नहीं हो इस संबंध में कार्रवाई का अनुरोध किया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस