सहरसा। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में शहीद सीआरपीएफ के 22 जवान के आत्मा की शांति को लेकर छात्र जदयू के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने शहर में कैंडल मार्च निकाला।

यह पटुआहा बजरंगबली मंदिर के समक्ष समाप्त हुआ। इस क्रम में कार्यकर्ताओं के शहीद जवान अमर रहे,भारत माता की जय जय के नारों से शहर गूंज उठा। छात्र नेता गौरव बंटी ने कहा कि आये दिन देश की सुरक्षा में खड़े जवानों के साथ नक्सलियों की कायराना हरकत को कब तक बर्दाश्त की जाएगी। आज जिस भारत मां के वीर सैनिकों की बदौलत हम सभी अपने अपने घरों में अमन चैन की सांस लेते हैं उन जवानों को धोखे से इतनी दर्दनाक मौत मिलती है। मुकेश शर्मा ने कहा कि इस घटना में 14 से अधिक घायल सेना के जवान अस्पताल में अभी भी भर्ती हैं। इस तरह के कायरना हमले का जवाब अविलंब देना चाहिए। सुभाष यादव ने कहा कि संगठन सरकार से इस घटना में मृत सैनिकों के परिजनों को उचित मुआवजे देने के साथ परिवार के सदस्य में सरकारी नौकरी देने की मांग करता है। सरकार को ऐसी घटना पर रोकथाम लगाने की जरूरत है। मौके पर संजीत सिंह, ठाकुर जय जयराम,मो0 आफताब आलम,संजीत कुमार, रामकुमार यादव, ज्योतिष राम,संजीव पटेल, राजेश राम, कर्ण शर्मा, अभिराज पटेल, सागर झा,नन्दन झा, नितिन कुमार, संजय साह राहुल, तपन गुप्ता, रोशन झा संजीत कुमार, बलराम, संजीव,आशीष,प्रद्युम्न, गिरधर, टिकू,दीपक झा, अमित,नीरज,अगरजीत,अंकित,सत्यजीत आदि थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021