सहरसा। 2014 के पैनल से शेष बचे अभ्यर्थियों के नियोजन की मांग को लेकर मंगलवार को जिला चयन समिति के पैनल में सूचीबद्ध कार्यपालक सहायक अभ्यर्थियों ने समाहरणालय के समक्ष प्रदर्शन किया। जिसके बाद जिलाधिकारी को नियोजन हेतु ज्ञापन समर्पित किया। इनलोगों ने कहा कि आदर्श आरक्षण रोस्टर के अनुरूप रिक्त पदों एवं भविष्य की संभावित रिक्ति को देखते हुए जिला स्तरीय चयन समिति के द्वारा 317 कार्यपालक सहायकों का पैनल संधारित किया गया। जिसमें लगभग 147 अभ्यर्थियों का नियोजन जिला के विभिन्न विभागों में किया गया। शेष अबतक नियोजन की प्रत्याशा में हैं। आवेदकों ने कहा कि वर्तमान समय में पंचायती राज विभाग द्वारा प्रत्येक प्रखंड एवं प्रत्येक पंचायत में एक- एक कार्यपालक सहायकों को नियोजित करने का निदेश दिया गया है। कहा कि बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन से मांगे गए मार्गदर्शन पत्र के अन्तर्गत 2014 के कार्यपालक सहायकों के पैनल की वैद्यता अवधि समाप्त होना, जिला स्तरीय चयन समिति द्वारा कतिपय कारणों से अनुमोदित नहीं हो सका। अर्थात पैनल की वैद्यता समाप्त समाप्त नहीं की गई। जिला स्थापना समिति के पत्र के अनुसार पैनल की वैद्यता अवधि 13 फरवरी 2019 प्रतीत होता है। आवेदकों ने जिलाधिकारी से 170 अभ्यर्थियों का भविष्य बचाने के लिए 2014 पैनल के अनुसार नियोजन की मांग की। मौके पर अध्यक्ष गोलू राय, रोहित कुमार, अरविन्द कुमार यादव, पंकज कुमार वर्मा, राजेश कुमार, कृष्ण नंदन, शशि प्रकाश आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran