रोहतास। मुगलसराय (डीडीयू) रेल डिवीजन के डीआरएम पंकज सक्सेना ने गुरुवार को आरा-सासाराम रेलखंड का निरीक्षण कर चल रहे विद्युतीकरण कार्य का जायजा लिया। उन्होंने कार्य एजेंसी को समय से काम पूरा करने का निर्देश दिया। मंडल रेल प्रबंधक का आरा से प्रारंभ निरीक्षण कार्य सासाराम तक चला। इस दौरान वे बिक्रमगंज, संझौली व नोखा समेत अन्य स्टेशन व हॉल्टों को भी देखा व वहां उपलब्ध यात्री सुविधाओं की जानकारी पदस्थापित अधिकारियों व कर्मियों से ली।

डीआरएम के आगमन को ले रेल प्रशासन पूरी तरह सतर्क रहा। स्टेशन परिसर को अतिक्रमणमुक्त करा पूरी तरह से साफ-सुथरा कर दिया गया था। यहां तक कि सर्कुले¨टग एरिया को भी वाहनों की पार्किंग से मुक्त कर दिया गया था, ताकि फिर अधिकारी की नजर टेढ़ी न हो। कारण कि चार दिन पूर्व निरीक्षण में यहां आए डीआरएम ने सर्कुले¨टग एरिया में खड़ी की गई लगभग डेढ़ दर्जन बाइक को जब्त करा प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। इसे ले स्टेशन प्रबंधक से ले आरपीएफ इंस्पेक्टर तक को फटकार लगाई थी।

स्टेशन प्रबंधक उमेश कुमार के मुताबिक 15 मार्च 2019 तक विद्युतीकरण कार्य को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। निर्धारित समय तक कार्य को पूरा करने का निर्देश डीआरएम ने कार्य एजेंसी को दिया है। साथ ही रेलवे क्रा¨सग पर बन रहे अंडर पास रोड का भी जायजा उन्होंने लिया। बताते चले कि बिक्रमगंज में हो रहे विद्युतीकरण कार्य को देखते हुए रेलवे ने रात में वाराणसी-आरा पैसेंजर व सुबह में चलने वाले आरा-सासाराम पैसेंजर को 15 फरवरी तक रद कर दिया है। इन दोनों ट्रेन का परिचालन 16 फरवरी से नियमित रूप से शुरू किया जाएगा।

Posted By: Jagran