स्थानीय राम दुलारी गंगा इंटर स्तरीय विद्यालय क्वारंटाइन सेंटर पर रविवार की रात खाने में छिपकली देख लोग भड़क उठे। वहां क्वारंटाइन किए गए प्रवासी कामगारों ने खाने से इनकार कर जमकर हंगामा शुरू कर दिया। वे अधिकारियों को बुलाने की मांग कर रहे थे।

बताया जाता है कि रात में उन्हें भोजन परोसा जा रहा था, जिसमें मरी छिपकली दिख गई उसके बाद लोग हंगामा करने लगे। कई लोगों ने खाना भी फेंक दिया और पदाधिकारियों को बुलाने की मांग पर अड़ गए। स्कूल में तैनात सुरक्षा गार्ड व नोडल पदाधिकारी ने इसकी जानकारी बीडीओ सुनील कुमार गौतम व थानाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह को दी। मौके पर पहुंचे दोनों अधिकारियों ने काफी देर तक उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन प्रवासी मजदूर एक ही बात पर अड़े थे कि हम लोगों की जिदगी के साथ आप लोग खिलवाड़ कर रहे हैं। खाने में आज छिपकली निकली है, अगर इसमें से कोई खाना खा लेता और उसे कुछ हो जाता, तो उसके बाल बच्चा एवं परिवार का जिम्मा कौन लेता। उनका कहना था कि क्वारंटाइन सेंटर में ना तो सफाई पर ध्यान दिया जा रहा है, न ही सही से खाना-नाश्ता दिया जा रहा है।.क्वारंटाइन सेंटर में मौजूद अधिकारी भी हमारी बात नहीं सुन रहे हैं। रात के लगभग दस बजे तक अधिकारी समझाने का प्रयास करने में लगे रहे। बीडीओ ने बताया कि सभी लोगों की तत्काल डॉक्टरों ने जांच की। सभी स्वस्थ थे। खाने में छिपकली कहां से आई है, इसकी जांच कर रहे हैं। जांच करने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस