जागरण संवाददाता, सासाराम :

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से 17 से 24 फरवरी मैट्रिक की परीक्षा ली जाएगी। इसे लेकर प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई है। कदाचारमुक्त व शांतिपूर्ण परीक्षा संपन्न कराने के लिए तीनों अनुमंडल के एसडीएम द्वारा परीक्षा केंद्र के पांच सौ मीटर की परिधि में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। साथ ही परीक्षा केंद्र के अंदर मीडिया कर्मियों के प्रवेश व फोटोग्राफी पर भी रोक लगा दी गई है। इस बार भी सभी केंद्रों पर सीसी कैमरे व वीडियोग्राफी की व्यवस्था होगी। 25 परीक्षार्थियों पर एक व प्रत्येक रूम में दो वीक्षकों की तैनाती होगी। इसे ले शनिवार को स्थानीय डीआरडीए सभागार में प्रभारी डीएम लालबाबू सिंह ने बैठक कर दंडाधिकारियों को कदाचारमुक्त परीक्षा संचालन से संबंधित आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। जिसमें अपर समाहर्ता लोक शिकायत अनिल कुमार पांडेय समेत अन्य अधिकारी शामिल थे।

प्रभारी डीएम ने कहा कि शांतिपूर्ण व कदाचारमुक्त परीक्षा संचलान को ले जिला प्रशासन पूरी तरह सख्त है। हड़ताल पर जाने वाले शिक्षकों की विस्तार से जानकारी प्राप्त कर उनके विरुद्ध कार्रवाई के लिए निर्देश दिया गया। प्रत्येक बेंच पर सिर्फ दो परीक्षार्थी बैठेंगे। बेंच-डेस्क की व्यवस्था पास के स्कूलों से करने का निर्देश विभागीय अधिकारियों व केंद्राधीक्षकों को दिया गया है। कहा कि हर हाल में वीक्षक सुबह आठ बजे केंद्र पर पहुंच जाएंगे। जबकि नौ बजे से परीक्षार्थियों का प्रवेश केंद्र के अंदर होगा। अंदर प्रवेश करने से पहले मुख्य द्वार पर तैनात दंडाधिकारी व सुरक्षा कर्मी परीक्षार्थियों की सघन तलाशी लेंगे। प्रभारी डीएम ने कहा कि इस बार भी कदाचारमुक्त परीक्षा को ले सख्त कदम उठाए गए हैं। सभी केंद्रों पर सीसी कैमरे के अलावा परीक्षार्थियों की फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराई जाएगी। जिले के 51 केंद्रों पर होने वाली मैट्रिक परीक्षा में लगभग 58 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे। जिसके लिए सासाराम में 27, डेहरी में 13 व बिक्रमगंज में 11 केंद्र बनाए गए हैं। इस बार परीक्षा में 27540 छात्र व 31090 छात्रा शामिल होंगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस