रोहतास। वैज्ञानिक तरीके से खेती करने से किसान समृद्ध बन सकते हैं। धान के कटोरा के नाम से यह क्षेत्र पूर्व से ही प्रसिद्ध है। उक्त बातें रविवार को प्रखंड कार्यालय परिसर में आयोजित खरीफ महोत्सव के अवसर पर कृषि वैज्ञानिक डॉ. रतन कुमार ने किसानों को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने कहा कि नई तकनीक के माध्यम से खेती करने से किसानों की पैदावार अच्छी होगी। वहीं जीरो टीलेज की बोआई व वर्मी कंपोस्ट के उपयोग से काफी लाभ होता है। कार्यक्रम का उदघाटन उपप्रमुख अमरेंद्र तिवारी व बीएओ महाराणा प्रताप ¨सह ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। बीएओ ने वैज्ञानिक तरीके से खेती करने की उपयोगिता पर प्रकाश डाला। शिविर में उपस्थित कृषि विज्ञान केंद्र बिक्रमगंज की वैज्ञानिक डॉ. रीता कुमारी ने किसानों को प्रशिक्षित किया। मौके पर मुखिया धर्मशीला देवी, पूर्व मुखिया व किसान प्रमोद ¨सह, सिद्धेश्वर ¨सह, कमलेश गुप्ता, कृषि समन्वयक रत्नेश कुमार, विजय गुप्ता, भूदेव ¨सह सहित अन्य किसान मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस