संवाद सूत्र, संझौली। रोहतास। संझौली प्रखंड में कोरोना की दूसरी लहर लगभग समाप्ति की ओर है। दो सप्ताह से कोरोना संक्रमण का मामला नहीं मिला है। स्थिति अच्छी होती जा रही है, लेकिन अभी भी खतरा टला नहीं है। सभी लोगों को टीका लगवाना अनिवार्य है। तीसरी लहर में प्रखंड के छह पंचायतों के करीब 82 गावों के सभी लोगों को गाइडलाइन का पालन करना जरूरी है। तीसरी लहर में अभिभावकों को अपने बच्चों पर खास ध्यान देने की जरूरत है। दैनिक जागरण ने लोगों को जागरूक करने के लिए वरिष्ठ लोगों से बातचीत की। एकमात्र उपाय है वैक्सीनेशन:

कोरोना से बचाव के लिए एकमात्र उपाय वैक्सीनेशन है। सभी लोग टीका लगवाएं व गांव के अन्य लोगों को भी प्रेरित करें। टीका को ले किसी तरहके भ्रम में नहीं पड़े। कोरोना को हराने की देशव्यापी मुहिम में सब की साझेदारी जरूरी है। कोरोना हारेगा , लेकिन यह तभी होगा जब आपका साथ मिलेगा। सरकार आपकी जिदगी की सुरक्षा के लिए हर संभव उपाय कर रही है।

कुमुद रंजन, बीडीओ- संझौली

जिदगी का सुरक्षा कवच है टीका

कोरोना एक खतरनाक बीमारी है। फिलहाल इस बीमारी से बचने का सुरक्षा कवच वैक्सीन ही है। 70 वर्ष की उम्र में भी मैंने टीका लिया है व मेरी पत्नी ने भी टीका लगवाया है। आप लोग भी अफवाहों पर ध्यान न दें, टीका अवश्य लगाएं। टीकाकरण ही आपके परिवार और समाज को सुरक्षित रख सकता है।

श्रीभगवान सिंह , समाजसेवी, सिकठी

कोविड-19 टीका को ले भ्रम न पालें

कोविड-19 के टीका को ले कोई भ्रम न पालें। निसंकोच सभी लोग टीका लगाएं। आज युवा वर्ग जिस तरह टीकाकरण को ले आगे आ रहा है, उसी तरह 45 वर्ष से ऊपर के लोग भी टीका के लिए आगे आए। जानलेवा कोरोना को हराने की मुहिम में सबकी सहभागिता जरूरी है।

शिव कुमार, समाजसेवी- सुसाड़ी मुहिम को मजबूती देने की जरूरत:

कोरोना हारेगा, हम जीतेंगे.. आज इस मुहिम को और अधिक मजबूती देने की जरूरत है। ग्रामीणों को टीकाकरण को ले आगे आना होगा। जीवन है तो जहान है। आज कोरोना काल में एकमात्र टीकाकरण ही जीवन का सुरक्षा कवच है। तो आइए, हम सब मिलकर एक संकल्प ले व वैक्सीनेशन को लेकर लोगों को प्रेरित करें।

डॉ. मधु उपाध्याय, उप प्रमुख

Edited By: Jagran