मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रोहतास।  शहर में बिजली की भारी कटौती से गर्मी के मौसम में लोग बेहाल हो उठे हैं। वहीं पेयजल के लिए भी हाहाकार मचा हुआ है। विद्युत लाइन मेंटेनेंस को ले सोमवार देर रात व मंगलवार की दोपहर से देर शाम तक अघोषित विद्युत कटौती से शहरवासी परेशान रहे।  करवंदिया और बीएमपी फीडर के  विभिन्न क्षेत्रों में मेंटेनेंस कार्य के कारण व बीएमपी उपकेंद्र में तकनीकी गड़बड़ी के कारण विद्युत आपूर्ति बाधित रही। 

बताते हैं कि शहर के पाली पुल के पास लगभग दो माह से क्षतिग्रस्त विद्युत पोल को हटाकर 11 केवीए को सड़क के किनारे नए रेल पोल पर शिफ्ट किया गया।  वहीं राष्ट्रीय राजमार्ग दो के ऊपर नए पोल को लगाया गया है, ताकि फीडर का बंटवारा किया जा सके और विद्युत आपूर्ति में समस्या न आए।

कार्यपालक अभियंता अभय रंजन ने बताया कि करवंदिया फीडर क्षेत्र के जमुहार रेलवे क्रॉसिग के पास रेलवे केबल में फॉल्ट को ठीक किया गया है, जिससे गर्मी के दिनों में ट्रिप की समस्या और लो वोल्टेज जैसी  समस्या से शहरवासियों को निजात मिल सके। साथ ही विद्युत आपूर्ति बाधित न हो, इसके लिए लगातार मेंटेनेंस कार्य किया जा रहा है। वहीं विद्युत आपूर्ति गुल रहने से शहरवासी गर्मी के कारण काफी परेशान दिखे। लंबे समय तक बिजली गुल होने के कारण घरों के इनवर्टर और पंखे भी जवाब दे दिए। जिसके बाद लोगों मजबूरन हाथ के पंखा के सहारे गर्मी और पसीने से तर बतर शरीर को राहत पहुंचाने का प्रयास किया। जबकि घरों में बुजुर्ग महिला और पुरुषों का हाल गर्मी के कारण बेहाल हो गया। जबकि पीने के पानी के लिए भी हाहाकार मच गया। बिजली नहीं मिलने से सरकारी पेयजलापूर्ति व्यवस्था के अलावा घरों में लगाए गए समरसेबल भी प्रभावित रहा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप