सासाराम : जिले में गुरुवार से छह दिवसीय कृमि मुक्ति सह फाइलेरिया उन्मूलन दिवस शुरू हुआ। मुख्य कार्यक्रम जिला मुख्यालय में आयोजित किया गया। उद्घाटन डीईओ संजीव कुमार, सिविल सर्जन डा. सुधीर कुमार, एसीएमओ डा. अशोक कुमार सिंह, डीपीओ माध्यमिक शिक्षा मानवेंद्र कुमार राय समेत अन्य अधिकारियों ने संयुक्त रूप दीप प्रज्जवलित कर किया। इस दौरान डीईओ ने कहा कि अलबेंडाजोल की गोली जहां लोगों को कृमि से जुड़ी बीमारियों को दूर करने में मील का पत्थर साबित होगी, जबकि डीईसी की खुराक भी फाइलेरिया जैसे रोग को दूर करने में कारगर साबित होगी।

वहीं सिविल सर्जन ने कहा कि उम्र के हिसाब से लाभुकों को दवा दी जाएगी। 21 सितंबर तक जिले में चलने वाले विशेष अभियान में तीन आयुवर्ग में अलग-अलग खुराक दी जाएगी। स्वास्थ्यकर्मी व अभियान में लगे अन्य कर्मी घर-घर भ्रमण कर लोगों को एल्बेंडाजोल की गोली निशुल्क खिलाएंगे। अभियान को लेकर कर्मियों को प्रशिक्षित किया गया है। अभियान के दौरान लोगों को अपने सामने ही डीईसी व अल्बेंडाजोल की गोली खिलाई जाएगी। उम्र के हिसाब से उनको दवा अपने समक्ष दी जानी है। दो से पांच वर्ष के बच्चों को डीईसी और अल्बेंडाजोल की एक गोली, छह से 14 वर्ष तक के बच्चों को डीईसी की दो और अल्बेंडाजोल की एक गोली तथा 15 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को डीईसी की तीन और अल्बेंडाजोल की एक गोली खिलाई जाएगी। अल्बेंडाजोल की गोली को चबाकर खाना है। दो वर्ष से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाओं व गंभीर रूप से बीमार लोगों को भी दवा नहीं खिलाई जाएगी। अभियान को सफल बनाने में केयर इंडिया, पीसीआइ, यूनिसेफ सहित अन्य सहयोगी संस्था द्वारा सहयोग किया जा रहा है।

Edited By: Jagran