रोहतास:मुफस्सिल थाना क्षेत्र के फोरलेन पर स्थित ताराचंडी के पास से एक सप्ताह पूर्व ट्रक अगवा कर लूटी गई 460 बोरी चिरौंजी पुलिस ने बरामद कर ली है। पुलिस ने इस कांड का उद्भेदन करते हुए इसमें शामिल अंतर जिला गिरोह के 12 सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी आशीष भारती ने गुरुवार को प्रेस वार्ता में यह जानकारी दी।

एसपी ने बताया कि इस घटना को अंजाम देने में प्रयुक्त की गई एक ब्रेजा, एक बोलेरो, एक पिकअप वैन और एक बाइक जब्त की गई है। बताया कि इस मामले में औरंगाबाद जिला के ओबरा से संजय कुमार साह, बारुण से सोनू कुमार व राजू कुमार, डेहरी के पवन कुमार व राजेश कुशवाहा, सासाराम के रामाकांत सिंह, औरंगाबाद जिला के जमहोर थाना के मखरा गांव के वीर भगत, वृंदा कुमार, श्रीराम पासवान, राहुल कुमार, चेनारी थाना के सूचित कुमार व इमरान अंसारी को गिरफ्तार किया गया है। एसपी ने बताया कि सबसे पहले गया के डोभी में लुटेरों के द्वारा बेची जा रही 74 बोरी चिरौंजी बरामद की गई। इस मामले में संजय साह व सोनू कुमार को गिरफ्तार किया गया। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने चेनारी बाजार में चिरौंजी व्यवसायी इमरान अंसारी के घर से 57 बोरी व बड्डी थाना क्षेत्र के आलमपुर से रिटायर्ड चौकीदार ललन पासवान के घर में किराए पर रह रहे सूचित कुमार के यहां से 329 बोरी लूटी गई चिरौंजी को बरामद किया । इस मामले में सोनू अंसारी को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। एसपी ने कहा कि अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए सासाराम के प्रभारी एसडीपीओ विनोद रावत के नेतृत्व में टीम गठित की गई थी, जिसमें मुफस्सिल थानाध्यक्ष विनय कुमार, एसआइ विश्वम्भर प्रसाद, शंभु कुमार व एएसआइ विजय राम को शामिल किया गया था। जिसने कम समय में मामले का उदभेदन कर लूटी गई चिरौंजी बरामद की व अपराधियों की गिरफ्तारी की गई।इन अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को पुरस्कृत किया जाएगा। ज्ञातव्य हो कि चेनारी के चिरौंजी व्यवसायी प्रमोद जायसवाल, राजीव अग्रवाल व विध्याचल जायसवाल की 460 बोरी चिरौंजी एक ट्रक पर लोड होकर छतीसगढ़ के रायपुर से लाई जा रही थी। जिसे अपराधियों ने ट्रक को अगवा कर लूट लिया था। दो दिन पहले खाली ट्रक को मुफस्सिल थाना की पुलिस ने कैमूर जिला के कुदरा से बरामद किया था।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप