रोहतास। कैमूर पहाड़ी पर बसे ग्रामीणों के लिए एक और तोहफा मिलने वाला है। स्थानीय सांसद छेदी पासवान की मांग पर केंद्रीय अनुसूचित जन जाति मंत्रालय ने कैमूर पहाड़ी पर बसे रोहतासगढ़ पंचायत के नागाटोली में एकलव्य मॉडल रेसिडेंसियल स्कूल खोलने की प्रक्रिया शुरू की है।

सांसद के मुताबिक इसी वर्ष फरवरी में केंद्रीय अनुसूचित जनजाति मामले के मंत्री को पत्र भेज रोहतास जिले के रोहतासगढ़ पंचायत के नागोटोली व कैमूर के अधौरा में एकलव्य मॉडल रेसिडेंसियल स्कूल खोलने की मांग की थी। जिसके बाद मंत्रालय ने इन दोनों स्थान पर उक्त शिक्षण संस्थान खोलने के लिए बिहार सरकार के संबंधित मंत्रालय से प्रस्ताव मांगा था।

सांसद ने कहा कि एकलव्य मॉडल स्कूल खुलने से दुर्गम पहाड़ी पर बसे अनुसूचित जनजाति समुदाय के लड़के व लड़कियों को बेहतर शिक्षा मिलने का मार्ग प्रशस्त हो जाएगा। साथ ही निजी सचिव की माने तो अधौरा में स्कूल खोलने की स्वीकृति मिल गई है, जबकि नागाटोली की प्रक्रिया अंतिम दौर में है। जल्द ही नागाटोली में भी स्कूल खोलने की स्वीकृति मिलने की संभावना है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस