रोहतास। सदर सीओ व मॉडन थानाध्यक्ष के नेतृत्व में गुरुवार को रैयती भूमि पर अतिक्रमण कर दी गई रौजा रोड स्थित सदर अस्पताल की पश्चिमी चारदीवारी को जेसीबी से तोड़ा गया। साथ ही चारदीवारी से लगी रौजा रोड की सभी फुटपाथी दुकानों को भी स्थाई रूप से हटाया जाएगा। प्रशासन द्वारा यह कार्रवाई पटना उच्च न्यायालय के आदेश के बाद की गई।

चारदीवारी तोड़ने से पूर्व पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने सीएस डॉ. एके राय व सदर अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. केएन तिवारी से बातचीत की। इस बीच चारदीवारी से दुकान लगाए फुटपाथी दुकानदारों द्वारा कार्रवाई का विरोध किए जाने की संभावना के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिसबल की तैनाती की गई थी। प्रशासन की कार्रवाई उक्त भूमि को पूरी तरह से अतिक्रमणमुक्त कराने तक जारी रहेगी। बताते चलें कि गत माह हाई कोर्ट ने सदर अस्पताल प्रशासन को यह निर्देश दिया था कि रौजा रोड से पूरब व सदर अस्पताल से पश्चिम प्रहलाद दूबे व अन्य की जो 29.5 डिस्मिल जमीन है, उसपर से अपना अतिक्रमण तत्काल हटा लें। जबकि जिला प्रशासन को दिए निर्देश में कहा गया है कि सदर अस्पताल की पश्चिमी दीवार से लगी सभी दुकानों को हटाकर अतिक्रमित भूमि को मुक्त कराएं। उच्च न्यायालय के निर्देश पर गत दिनों उक्त भूमि की मापी भी कराई गई थी, जिसमें निजी भूमि सदर अस्पताल की बाउंड्री से कहीं दो फीट तो कहीं आठ फीट अंदर तक पाई गई थी। अतिक्रमण मुक्त कराने के दौरान कुछ दुकानदारों ने विरोध भी जताया। कहा कि उनकी भी व्यवस्था प्रशासन करे। मौके पर एसडीएम राजू गुप्ता, नप ईओ कुमारी हिमानी, सीओ संजय कुमार झा सज्जन, मॉडल थानाध्यक्ष मो. इरशाद समेत अन्य शामिल थे।

By Jagran