रोहतास । कोरोना संकट से जूझ रहे फुटपाथी दुकानदारों को केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक पैकेज के तहत ऋण देने की घोषणा से फुटपाथी दुकानदारों में आशा की किरण जगी है। नप क्षेत्र में 1278 फुटपाथी दुकानदार है । डेहरी बाजार में ठेला लगा फल बेचने वाले मो. दिलशाद ने वित्त मंत्री द्वारा आर्थिक पैकेज के तहत 10 हजार रुपये का ऋण देने का स्वागत किया है ।कहा कि इस राशि से उन्हें आत्म निर्भर बनने में सहयोग मिलेगा । सभी फुटपाथी दुकानदारों को राशन कार्ड भी उपलब्ध कराना चाहिए । स्थानीय सिनेमा रोड में ठेले पर चाय बेचने वाले अरुण कुमार कहते हैं कि लॉकडाउन को ले लगभग दो माह से व्यवसाय बंद है । सारी पूंजी परिवार चलाने में खर्च हो गई । उन्हें फिर कारोबार शुरू करने को पूंजी की जरूरत होगी ।आर्थिक पैकेज के तहत 10 हजार का ऋण प्राप्त होगा तभी वे अपना व्यवसाय शुरु कर सकेंगे । पाली रोड में ठेला लगा पकौड़ी बेचने वाले अनिल कुमार की मानें तो लॉकडाउन के बाद से कारोबार बंद है। सारी पूंजी परिवार के भरण-पोषण में समाप्त हो गई । बिना सहयोग फिर से व्यवसाय प्रारम्भ करना मुश्किल है । ऐसे में मोदी सरकार द्वारा आर्थिक पैकेज के तहत ऋण देने के एलान से आशा जगी है । पैकेज का लाभ तुरंत मिले ताकि वे अपने कारोबार को पुनर्जीवित कर सके । डेहरी बाजार में ठेला पर सब्जी बेचने वाले मुबारक हुसैन ने सरकार के फुटपाथी दुकानदारों के लिए किए गए घोषणा का स्वागत किया है । उम्मीद जताई है कि जल्द से जल्द इस पैकेज का लाभ सरकार दिलाएगी ताकि वे अपने कारोबार को पुनर्जीवित कर परिवार की परवरिश कर सके । नप क्षेत्र में सर्वे के अनुसार 1278 फुटपाथी दुकानदार हैं । जिसमे 668 का बायोमेट्रिक सर्वे हो गया है ।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस