पूर्णिया। एकात्म मानववाद के प्रणेता, भारतीय जनसंघ के संस्थापक सदस्य एवं अध्यक्ष रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती राजेन्द्र नगर स्थित भाजपा कार्यालय में जिलाध्यक्ष राकेश कुमार की अध्यक्षता में मनाई गयी। कार्यक्रम की शुरुआत सर्वप्रथम पंडित दीनदयाल उपाध्याय की तैलचित्र पर पुष्प अर्पित कर किया गया। जिलाध्यक्ष राकेश कुमार ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि अभावों के जीवन से निकले दीनदयाल जी ने पूरे देश में विचारो का वट वृक्ष खड़ा किया। दीनदयाल के विचार वर्तमान भारतीय जनता पार्टी की आत्मा है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानववाद दर्शन को अद्वितीय एवं सार्वभौमिक दर्शन बताते हुए भाजपा उपाध्यक्ष अनंत भारती ने कहा की पंडित जी का कहना था कि समाज के अंतिम पंक्ति में रहने वाले का विकास से ही देश की वास्तविक विकास संभव है। विचार एवं व्यवहार का साम्य जहां व्यक्ति के लिए महत्वपूर्ण है वहीं एकात्म मानववाद व्यक्ति से लेकर परिवार, समाज, देश, राष्ट्र, विश्व, मानवता, सृष्टि एवं परमेष्ठी तक का एकात्म भाव है। प. दीनदयाल जी ने कहा था कि जिस दिन भारत का प्रत्येक नागरिक पेट भर भोजन, तन ढकने कपड़े, रहने को घर, व रात को चैन की नींद सोयेगा तब अंत्योदय सार्थक होगा। कार्यक्रम में मंच संचालन महामंत्री विजय मांझी ने तथा धन्यवाद ज्ञापन संजीव सिंह ने किया। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष राकेश कुमार, प्रफुल्ल रंजन वर्मा, राजीव राय, संजीव सिंह, राजेश रंजन, विजय मांझी, संतोष चौरसिया, सुमित प्रकाश, अरुण राय पुलक, परितोष भारती, अर्चना साह, मनोज मोदी, वीणा सूद, अभ्यम लाल, अमित कुमार, किशोर जयसवाल, ललन सिंह, अनिल चौरसिया, मीनाक्षी सिन्हा, रितेश सिंह, सुधीर सिंह, गुंजा बेंगाणी, अनिता सिंह इत्यादि प्रमुख रूप से उपस्थित थे। उक्त जानकारी भाजपा मीडिया प्रभारी सुमित प्रकाश ने दी।

Edited By: Jagran