पूर्णिया। एक 13 वर्षीया नाबालिग के अपहरण मामले में अभियुक्त राजेश राय को सात वर्ष सश्रम कैद के साथ पांच हजार रुपये जुर्माना की सजा दी गई है। जुर्माना राशि नहीं देने पर तीन महीना कैद की अतिरिक्त सजा होगी। यह आदेश पंचम अपर जिला जज विद्यासागर पांडेय ने बायसी थाना कांड संख्या 33/16 के तहत सुनाई है।

घटना तिथि 21 मार्च 2016 को तीन बजे दिन में जब नाबालिग पढ़कर अपने घर लौट रही थी तभी राजेश राय लेकर भाग गया। अभियुक्त साकिन सकरैल थाना डगरूआ का रहने वाला है। अपहृता ने न्यायालय में गवाही में बताया था कि अभियुक्त राजेश राय कपड़ा मुंह में ठूंस दिया था। आंख में पट्टी बांध दिया और ऑटो पर बैठाकर दोस्त के यहां ले गया। 12 दिन इधर-उधर घुमाकर अपने घर सकरैल लाया। तब थाना पुलिस ने आकर अपहृता को बरामद किया था। इस वाद के अपर लोक अभियोजक जयंत कुमार यादव थे।

Posted By: Jagran