पूर्णिया। जिले में चल रहे पंचायत चुनाव की मतगणना पूर्णिया कालेज परिसर में होगी। इसके लिए वहां तैयारी जोर-शोर से की जा रही है। जिला निर्वाचन अधिकारी सह जिलाधिकारी राहुल कुमार ने पूर्णिया कालेज पहुंच कर वहां काउंटिग हाल व स्ट्रांग रूम निर्माण कार्य का जायजा लिया तथा अधिकारियों को कई निर्देश दिए। मतगणना के लिए वहां पांच काउंटिग हाल एवं पांच स्ट्रांग रूम का निर्माण किया जाएगा। उप निर्वाचन पदाधिकारी अनिरूद्ध प्रसाद यादव ने बताया कि चुनाव बिल्कुल निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण कराने के लिए प्रशासन कटिबद्ध है। मतगणना का कार्य भी पूरी तरह पारदर्शी तरीके से कराने के लिए पूरी तैयारी की जा रही है। बनमनखी से हो चुका है पंचायत चुनाव का श्रीगणेश

------------------------------------

विदित हो कि जिले में 10 चरणों में पंचायत चुनाव होना है। यहां दूसरे चरण से चुनाव शुरू हुआ है तथा 11 वें चरण में समाप्त होगा। दूसरे चरण में बनमनखी से चुनाव प्रक्रिया का श्रीगणेश हो चुका है। जिले में 230 पंचायतों में 7049 पदों के लिए चुनाव होना है। इस बार पंचायत चुनाव में पहली बार ईवीएम एवं बैलेट पेपर दोनों का उपयोग हो रहा है इसलिए पारदर्शी चुनाव के लिए बारिकी से प्रशासनिक तैयारी की जा रही है। चुनाव को ले मतदान से लेकर मतगणना तक की तैयारी जोरों पर है। पहले मतगणना प्रखंड मुख्यालयों में ही कराने की योजना थी लेकिन उसमें आने वाली कठिनाइयों को देखते हुए अब जिला मुख्यालय में ही मतगणना कराने का निर्णय लिया गया है। जिले के हर पंचायत में होने वाले चुनाव की मतगणना अलग-अलग तिथि में पूर्णिया कालेज में होगी। इसके लिए वहां काउंटिग हाल व स्ट्रांग रूम निर्माण को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

पांच-पांच स्ट्रांग रूम और काउंटिग हाल का होगा निर्माण

--------------------------------------

मतगणना के लिए पूर्णिया कालेज में निर्माण कार्य जोरों पर है। उप निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि हर पंचायत में छह पदों के लिए चुनाव हो रहे हैं। जिसमें मुखिया, जिला परिषद, पंचायत समिति सदस्य एवं वार्ड सदस्य का चुनाव ईवीएम से कराया जाएगा जबकि पंच एवं सरपंच का चुनाव बैलेट पेपर से होगा। ईवीएम से होने वाले सभी पदों के लिए अलग अलग काउंटिग हाल बनाए जाएंगे जबकि बैलेट से होने वाले दो पदों का एक काउंटिग हाल बनाया जाएगा। इसलिए पांच काउंटिग हाल का निर्माण कालेज परिसर में कराए जा रहे हैं। इसी तरह जिप सदस्य, मुखिया, पंसस एवं वार्ड सदस्य पदों के ईवीएम के लिए अलग-अलग चार स्ट्रांग रूम बनाए जाएंगे जबकि पंच एवं सरपंच पदों के मतपत्रों के लिए एक स्ट्रांग रूम बनेगा।

काउंटिग में कोई व्यवधान नहीं हो, इसको लेकर वहां व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं। डीएम ने काउंटिग हाल के लिए बनाए जा रहे अस्थाई निर्माण कार्य का जायजा लिया तथा कई निर्देश दिए। डीएम के साथ डीडीसी मनोज कुमार, उप निर्वाचन अधिकारी अनिरूद्ध प्रसाद यादव सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Edited By: Jagran