पूर्णिया [जेएनएन]। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को कहा कि किसानों की आमदनी बढ़ाने में पशुपालन काफी मददगार साबित होता है। फ्रोजेन सीमेन केंद्र पशुपालन की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। इस केंद्र का उद्देश्य उन्नत सीमेन का उत्पादन कर उसे संरक्षित रखना है। यहां उन्नत किस्म के सांड और भैंसे रखे जाएंगे तथा उनका सीमेन संरक्षित किया जाएगा।

वे बिहार के पूर्णिया स्थित स्थानीय मरंगा स्थित बकरी पालन केंद्र में केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह के साथ देश के सबसे बड़े फ्रोजेन सीमेन स्टेशन का भूमि पूजन और शिलापट्ट का अनावरण करने के बाद बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि पशुओं का केवल दूध ही नहीं, बल्कि गोबर और गोमूत्र भी लाभकारी होते हैं। गोबर का उपयोग जैविक खाद के रूप में किया जाता है। गोमूत्र का उपयोग कीटनाशी दवा के रूप में होता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में जैविक खेती को बढ़ाने की कई योजनाओं पर काम किए जा रहे हैं। पायलट प्रोजेक्ट के तहत जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए सब्जी उत्पादन की शुरुआत की गई है। इस मौके पर केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा कि किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए दुग्ध उत्पादन को बढ़ाना जरूरी है। भविष्य के लिए देसी नस्ल की गायों को उन्नत करना जरूरी है। विदेशी नस्ल की पशुओं को बदलते पर्यावरण में सुरक्षित रखना संभव नहीं होगा। यहां यह स्टेशन बनने का लाभ आसपास के जिलों के पशुपालकों को भी  मिलेगा। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के पूर्ण होने पर पांच सौ करोड़ सरकारी राजस्व की बचत होगी।

बताते चलें कि देश के सबसे बड़े तथा बिहार के इस पहले फ्रोजेन सीमेन स्टेशन का निर्माण 20 महीने में 64 करोड़ की लागत से होगा। यहां प्रति वर्ष पचास लाख अति उत्तम कोटि के सीमेन संरक्षित करने की क्षमता होगी। इस अवसर पर बकरी पालन केंद्र में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड और बिहार सरकार के बीच एकरारनामे का आदान-प्रदान किया गया। इस प्रोजेक्ट के निर्माण की जिम्मेदारी एनडीवीबी को सौंपी गई है।

इससे पूर्व मंत्रोच्चार के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन ङ्क्षसह ने इस परियोजना का भूमि पूजन किया और शिलापट्ट का अनावरण किया। उसके बाद मंच पर दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई।

कार्यक्रम की अध्यक्षता राज्य सरकार के पशुपालन मंत्री पशुपति नाथ पारस ने की। इस समारोह में बिहार सरकार में उर्जा मंत्री विजेंद्र प्रसाद, कला संस्कृति एवं युवा विभाग के मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि, आपदा मंत्री दिनेश यादव, स्थानीय सांसद संतोष कुशवाहा, विधायक विजय खेमका, लेशी ङ्क्षसह, बीमा भारती, जिप अध्यक्ष क्रांति देवी, मेयर विभा कुमारी , विभिन्न विभागों के सचिव व पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस