पूर्णिया [जेएनएन]। पूर्णिया सदर थाना क्षेत्र के कटिहार मोड़ पर शुक्रवार सुबह एक अनियंत्रित ट्रक ने साइकिल व ऑटो सवार को कुचल दिया। इसके बाद पुलिसिया कार्यशैली से नाराज लोगों ने जमकर उपद्रव किया। पुलिस जीप, ट्रैफिक पोस्ट व एक पुलिसकर्मी की बाइक लोगों ने फूंक दी। कई पुलिसकर्मियों से हाथापाई की गई। उपद्रवियों ने रास्ते से गुजर रहे लोगों के साथ भी मारपीट की। पुलिस ने भी लाठीचार्ज करते हुए 15 लोगों को हिरासत में ले लिया।

ट्रक ने दो को कुचला

जानकारी के अनुसार पूर्वाह्न नौ बजे सीमेंट लदे ट्रक ने प्लाईवुड फैक्ट्री में काम करने जा रहे साइकिल सवार मो. आजम को कुचल दिया। आजम मुफस्सिल थाना क्षेत्र के फसिया मदारपुर गांव के निवासी थे। इसके बाद भागने के दौरान ट्रक ने एक ऑटो में टक्कर मार दी। इससे ऑटो पर सवार मो. हबीबुर रहमान नीचे गिरे और ट्रक ने उन्‍हें भी कुचल दिया। हबीबुर पश्चिम बंगाल के हरिश्चंद्र थाना क्षेत्र अंतर्गत लतासी के निवासी थे। ये अपने भाई के साथ पिता का इलाज कराने ट्रेन से पूर्णिया पहुंचे थे।

घटना के बाद भड़का बवाल

दुर्घटना के बाद ट्रक का चालक व खलासी फरार हो गए। इसके बाद लोग आक्रोशित हो उठे। स्थानीय युवक लाठी-डंडे लेकर सड़कों पर जमा हो गए और सड़क से गुजर रहे वाहनों में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। राहगीरों की भी पिटाई की गई। कटिहार मोड़ और खुश्कीबाग की दुकानें बंद करवा दी गईं।

भीड़ का पुलिस पर हमला

घटना के एक घंटे बाद पुलिस वहां पहुंची । लोगों ने हाथापाई कर पुलिसकर्मियों को भी खदेड़ दिया। पुलिस जीप में आग लगा दी । उपद्रवियों ने वहां मौजूद ट्रैफिक पोस्ट को भी फूंक दिया। इसी दौरान बाइक लेकर एक पुलिसकर्मी वहां से गुजरा। लोगों ने उसकी पिटाई कर बाइक को भी आग के हवाले कर दिया। पुलिस घटनास्थल से किसी तरह जान बचाकर भागी।

लोग पुलिस पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए मौके पर डीएम-एसपी को बुलाने की मांग कर रहे थे। इस दौरान सड़क से गुजर रहे राहगीरों ने जब मोबाइल फोन से फोटो लेने की कोशिश की तो उपद्रवियों ने 20 से अधिक लोगों के मोबाइल फोन छीनकर तोड़ डाले। कई राहगीरों से लूटपाट भी की गई।

पुलिस ने किया लाठीचार्ज

इसके बाद पूर्वाह्न 11.45 बजे वरीय पुलिस अधिकारी  पुलिस बल के साथ पहुंचे। इस बार पहुंचते ही पुलिस ने उपद्रवियों पर लाठीचार्ज कर दिया। लाठीचार्ज के बाद उपद्रवी तितर-बितर हो गए। मौके पर पहुंचे एसपी विशाल शर्मा ने  दबिश देकर उपद्रवियों की पहचान और गिरफ्तारी का निर्देश दिया।

पुलिस ने 15 लोगों को हिरासत में लिया है। वीडियो फुटेज के माध्यम से उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। एसपी के पहुंचने के बाद घटनास्थल से मृतक के परिजन शव लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचे। पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया गया।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस