पूर्णिया। धमदाहा थाना क्षेत्र के गढ़ी धरहर गांव में बुधवार की रात्रि इफ्तार के बाद मामूली बात को लेकर हुए विवाद में जमकर लाठियां एवं ईंट-पत्थर चला। इस घटना में सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इस घटना में घायल मु. महीद अंसारी ने बताया कि बुधवार की रात्री हमलोग इफ्तार करने के बाद अपने दरवाजे पर बैठे हुए थे। इसी दौरान मेरे पड़ोसी मु. सलमान, मु. रज्जाक अंसारी, सज्जाक अंसारी आपस में किसी बात को लेकर शोर कर रहे थे। उनलोगों का शोर सुनकर मैंने पड़ोसी होने के नाते सिर्फ इतना ही पूछा कि किस बात को लेकर शोर हो रहा है। बस इतना सुनते ही वे लोग मुझसे उलझ गए और गाली-गलौज शुरू कर दी। जब मैंने एवं मेरे परिवार के अन्य सदस्यों ने इस बात का विरोध किया तो वो तीनों लाठी-डंडा लेकर मेरे दरवाजे पर आकर हमलोगों पर अचानक हमला कर दिया। अचानक हुए इस हमले से हमलोग घबराकर इधर-उधर भागने लगे तो उनलोगों ने हमलोगों पर ईंट-पत्थर बरसाना शुरू कर दिया। इस घटना में मु. तजीमुद्दीन अंसारी, मु. ग्यास अंसारी, मु. अजलु अंसारी, मु. गुलजार अंसारी, मु. दिलखुश आलम गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को इलाज हेतु अनुमंडलीय अस्पताल धमदाहा में भर्ती करवाया गया है। इस मामले को लेकर पीड़ित ने धमदाहा थाना में आवेदन देकर मदद की गुहार लगाई है। इस संबंध में पूछे जाने पर धमदाहा थानाध्यक्ष प्रदीप कुमार ने बताया कि आवेदन प्राप्त हुआ है मामले की जांच शुरू कर दी गई है। जांच के बाद दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran