पूर्णिया/कटिहार/किशनगंज जागरण टीम। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में पूर्णिया, कटिहार और किशनगंज में चुनावी सभा को संबोधित किया। उन्‍हाेंने बिहार में हुए विकास कार्यों के बारे में जानकारी दी तथा महागठबंध पर जमकर हमला बोला। कहा कि बिहार के हर घर में बिजली पहुंच गई है, यहां अब लालटेन की जरूरत नहीं है। 

पूर्णिया के अमौर प्रखंड के बारा ईदगाह में जदयू प्रत्याशी सैय्यद महमूद अशरफ के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए नीतीश ने कहा कि गरीबों के विकास के लिए लगातार कार्य कर रहा हूं। कुछ लोग समाज को तोडऩे के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि जब नवंबर 2005 में राज्य की कमान संभाली तो पंचायत चुनाव में महिलाओं को आरक्षण दिया। विद्यालयों में बालिकाओं की उपस्थिति कम देख पोशाक और साइकिल योजना काे शुरू किया। इससे उनकी संख्या बढ़ी है। आज गांव-गांव में साइकिल से लडकियां स्कूल जा रही हैं। जीविका समूह ने महिला सशक्तीकरण को मजबूती दी है। वर्तमान में 10 लाख समूह का काम कर रहे हैं। बिहार में शराबबंदी पिछले चुनाव की सभा में महिलाओं की मांग के बाद उठाया गया कदम है। सभी वर्ग को आरक्षण का लाभ दिलाया। उन्होंने किशनगंज लोकसभा से जदयू प्रत्याशी सैय्यद महमूद अशरफ को वोट देकर विजयी बनाने की अपील की।

वहीं किशनगंज के कोचाधामन प्रखंड के कुट्टी पंचायत के धनसोना फूलबाड़ी में जनता से संवाद करते हुए उन्होंने कहा कि न्याय के साथ हर वर्ग का विकास हमारी प्राथमिकता रही है। महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि महागठबंधन के लोग बौखलाहट में अनाप-शनाप बोल रहे हैं। सात निश्चय योजना पर भी फोकस करते हुए उन्होंने कहा कि घर-घर बिजली पहुंच गई है। शौचालय बनाए जा रहे हैं। 2020 के अंत तक सभी घरों में नल का जल पहुंचाने का काम पूरा कर लिया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि बिहार के विकास के लिए केंद्र सरकार की ओर से राज्य के विकास के लिए 50 हजार करोड़ की राशि प्रदान की गई है। मुस्लिम बहुल किशनगंज जिले में अल्पसंख्यकों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं पर फोकस किया। मदरसा व मदरसा शिक्षकों के बेहतरी के लिए पूर्णिया में एक क्षेत्रीय कार्यालय खोला गया है। अब मदरसा शिक्षकों को किसी भी कार्य के सिलसिले में पटना जाने की जरूरत नहीं है। हर जिले में अल्पसंख्यक आवासीय विद्यालय खोले जा रहे हैं। छात्रावास में रहने वाले अल्पसंख्यक छात्रों के लिए सरकार की ओर से हर महीने एक हजार रुपये व 15 किलो अनाज देने की योजना चलाई जा रही है।

उन्‍होंने कहा कि मुस्लिम समाज की तलाकशुदा महिलाओं के उत्थान के लिए 25 हजार रुपये दिए जा रहे हैं। इंटर व स्नातक पास बालिकाओं को प्रोत्साहन राशि के रूप में दस हजार व 25 हजार रुपये दिए जा रहे हंै। महिलाओं के उत्थान को लेकर कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। स्थानीय निकाय के नगर पंचायत एवं ग्राम पंचायत के चुनाव में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण, सरकारी नौकरी में भी 35 फीसदी आरक्षण दिया गया। इस अवसर पर विधान पार्षद डॉ. दिलीप कुमार जायसवाल, विधायक मुजाहिद आलम, नौशाद आलम, गुलाम रसूल बलियावी, तनवीर अहमद, जदयू जिलाध्यक्ष फिरोज अंजुम, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश्वर वैद, लोजपा जिला अध्यक्ष कलीमउद्दीन आदि मौजूद थे।

उधर कटिहार के कदवा व बारसोई में एनडीए प्रत्याशी दुलालचंद गोस्वामी के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि कटिहार-बलरामपुर एसएच 98 का जल्द ही जीर्णोद्धार किया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा सड़क के चौड़ीकरण को लेकर 560 करोड़ की योजना स्वीकृत की जा चुकी है। केंद्र व राज्य सरकार के विकास कार्य को विरोधी पचा नहीं पा रहे हैं। सीएम ने कहा कि लोगों की सेवा व राज्य का विकास ही सरकार का उद्देश्य है। वे मेवा के लिए राजनीति नहीं करते हैं। सभा को खान एवं भूतत्व मंत्री विनोद कुमार सिंह, विधायक तारकिशोर प्रसाद, विधान पार्षद अशोक अग्रवाल, मेयर विजय सिंह, भाजपा नेता चंद्रभूषण ठाकुर मौजूद थे।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस