पटना सिटी। आलमगंज थाना क्षेत्र के बिस्कोमान गोलंबर से बजरंगपुरी के बीच शनिवार रात जिउतिया बनाने के लिए निकले 30 वर्षीय प्रशांत सागर उर्फ लंगड़ा को अपराधियों ने गोली मार दी। घटना का कारण पुलिस पुरानी रंजिश बता रही है। पुलिस का कहना है कि प्रशांत हाल ही में जेल से छूटा है। घायल का इलाज निजी अस्पताल में जारी है। घायल के बयान के बाद ही मामला स्पष्ट होगा।

पुलिस के अनुसार, आलमगंज थाना क्षेत्र के अशोक विहार कॉलोनी निवासी प्रशांत उर्फ लंगड़ा किराए के मकान में रहता है। परिजनों के अनुसार, शनिवार की रात लगभग नौ बजे वह घर से जिउतिया बनाने के लिए निकला था। घर वापस लौटने के दौरान बिस्कोमान गोलंबर से बजरंगपुरी के बीच पूर्व से घात लगाए अपराधियों ने फायरिग शुरू कर दी। गोली की आवाज सुनकर युवक तेजी से भागने लगा। भागने के क्रम में वह गिर गया। पीछा कर रहे तीन अपराधियों ने प्रशांत पर दो गोलियां चलाई। एक गोली कमर के पास लगी। गोली लगते ही युवक बेहोश हो गया। युवक को गोली लगने की सूचना पाकर परिजन पहुंचे और पास के निजी अस्पताल में ले गए। घायल युवक का आइसीयू में इलाज जारी है।

आलमगंज थानाध्यक्ष सीपी गुप्ता ने बताया कि घायल का बयान अभी तक नहीं हुआ है। पुलिस घटना की वजह पुरानी रंजिश मान रही है। पुलिस के अनुसार छह जनवरी 2019 की रात प्यारे लाल के बाग में आग तापने के दौरान अपराधियों ने विजय पांडे उर्फ विजय यादव व दो अन्य को गोली मारी थी। गोली से घायल एक युवक की मौत दो दिन बाद हो गई थी। जांचक्रम में प्रशांत सागर का नाम आने के बाद पुलिस जेल भेजा था। वह हाल ही में जेल से छूटा है। थानाध्यक्ष का कहना है कि घायल के बयान के बाद ही पूरा मामला स्पष्ट हो पाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप