पटना, जेएनएन। सड़क सुरक्षा सप्ताह इस बार कुछ अलग तरह से मनेगा। परिवहन विभाग ने अभियान को प्रभावी बनाने के लिए छात्र-छात्रओं को इससे जोड़ा है। स्कूलों में प्रार्थना के समय सड़क सुरक्षा से संबंधित जानकारियां बच्चों को दी जाएंगी। पटना सहित राज्य के सभी जिलों में 30वां सड़क सप्ताह अभियान चार से 10 फरवरी तक चलेगा।

ईमेल करना होगा खुद का बनाया पोस्टर

स्कूली बच्चे अभियान के लिए सड़क सुरक्षा पर स्लोगन और डिजिटल पोस्टर बनाकर आकर्षक पुरस्कार जीत सकेंगे। उन्हें अपने स्लोगन और पोस्टर transport,roadsaftey@gmail.com ईमेल करने होंगे। बेहतर स्लोगन और पोस्टर बनाने वाले प्रथम पांच प्रतिभागियों को पुरस्कार और प्रमाणपत्र मिलेगा। प्रतिभागियों के बेहतर स्लोगन और पोस्टर की प्रदर्शनी भी लगायी जाएगी। इस दौरान बच्चे अपने अभिभावक से एक घोषणापत्र भरवाएंगे, जिसमें बिना हेलमेट दो पहिया वाहन नहीं चलाने, बिना सीट बेल्ट चारपहिया वाहन नहीं चलाने, वाहन चलाते समय मोबाइल का उपयोग नहीं करने के साथ ही यातायात नियमों का पालन करने की बात छपी रहेगी। इस घोषणा पत्र पर सभी स्कूली बच्चे अपने माता-पिता से हस्ताक्षर कराएंगे।

ओपन कंपीटिशन में हर उम्र के लोगों को मौका

सड़क सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर एक ओपन कंपीटिशन भी होगा। इसमें कोई भी व्यक्ति या स्कूल-कॉलेज के छात्र-छात्रएं भाग ले सकते हैं। परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि अभियान से हर तबके को जोड़ने की कोशिश हो रही है। उन्होंने शुक्रवार को तैयारियों की समीक्षा की। इस मौके पर राज्य परिवहन आयुक्त सीमा त्रिपाठी और अन्य अधिकारी मौजूद थे।

जिले से लेकर पंचायत स्तर तक चलाई जाएंगी गतिविधियां

परिवहन सचिव ने बताया कि सड़क सुरक्षा सप्ताह राज्य के सभी जिलों, अनुमंडलों, प्रखंड मुख्यालयों के साथ ही पंचायत स्तर पर भी मनाया जाएगा। लोगों को जागरूक करने के लिए हर दिन विभिन्न तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। हर दिन अलग-अलग थीम पर जागरूकता अभियान चलेगा। अभियान के दौरान रक्तदान शिविर लगेगा। साथ ही 10 से अधिक बार रक्तदान करने वाले व्यक्तियों को सम्मानित किया जाएगा। राज्य के सभी सिनेमा घरों में सड़क सुरक्षा से संबंधित स्लाइड चलायी जाएगी। प्रमुख सार्वजनिक स्थानों पर होडिर्ंग्स और बैनर के माध्यम से भी लोगों को जागरूक किया जाएगा।

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप