बिहटा। चेक पर ओवरराइटिंग कर 48 रुपये की जगह पर 4.80 लाख रुपये निकाल लेने के मामले में बिहटा पुलिस ने मध्यप्रदेश के इंदौर से एक महिला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गिरफ्तार महिला इंदौर निवासी भानु प्रकाश सोनी की पत्नी नम्रता सोनी है। बताया जा रहा है कि सात माह पहले विष्णुपुरा निवासी राम अयोध्या सिंह के घर एक व्यक्ति पहुंचा, जो खुद को बीएसएनएल का एरिया मैनेजर और नाम आशीष कुमार बता रहा था। उसने कहा कि एक कट्ठा जमीन उपलब्ध करा दें तो बीएसएनएल का टावर लगेगा, जिसका किराया प्रतिमाह 12 हजार कंपनी की तरफ से किराया मिलेगा। उसने एक हफ्ते में एग्रीमेंट की प्रक्रिया पूरी होने की बात कही। उसकी बातों में आकर राम अयोध्या सिंह ने अपनी जमीन के कागजात की फोटोकॉपी और 48 रुपये का एक चेक दे दिया। इसके अगले ही दिन उनके मोबाइल पर मैसेज आया कि खाते से 4.80 लाख रुपये की निकासी कर ली गयी है। बैंक में पता करने पर पाया कि उनके खाते से रुपये मध्यप्रदेश की इंदौर निवासी नम्रता सोनी के खाते में ट्रासफर किए गए हैं। इसके बाद उन्होंने बिहटा थाना में छह जुलाई को मामला दर्ज करवाया। थाना प्रभारी युगेश चंद्र ने बताया कि काड का मुख्य आरोपित फरार है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार की गई नम्रता सोनी के खाते से 3.65 लाख रुपये आशीष कुमार के खाते में ट्रासफर कर दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि आशीष और नम्रता सोनी दोनों की आपस में गहरी पहचान है। बहुत जल्द उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप