पटना [जेएनएन]। बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाधी से संबंधित एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि राजीव गांधी एक ईमानदार शख्सियत थे। बोफोर्स घोटाले में राजीव गांधी नहीं बल्कि उनके नजदीकी लोग शामिल थे। उन नजदीकी लोगों ने ही राजीव गाधी को फंसा दिया। वह उन नजदीकी लोगों का नाम सार्वजनिक नहीं कर सकते। राजधानी पटना के मौर्या होटल में आयोजित शिक्षा जगत से जुड़े एक कार्यक्रम में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने लोगों को संबोधित करते हुए शुक्रवार को उक्त बयान दिया।

मालूम हो कि बोफोर्स तोप सौदे के चलते 1980 के दशक में देश की राजनीति में भूचाल सा आ गया था। 1989 में काग्रेस को इसकी वजह से सत्ता तक गंवानी पड़ी थी। मामले में आरोपी इटली के बिजनसमैन ओत्तावियो क्वात्रोकी की गाधी परिवार से कथित नजदीकी सवालों के घेरे में रही है। ऐसे में बिहार के राज्यपाल का यह एक बड़ा बयान है।

मीडिया द्वारा पूछे गए एक सवाल में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि यदि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव उनसे मिलने आते है तो उनका वेलकम है। वह एक कप चाय तो जरूर ही पिलाएंगे।