जागरण संवाददाता, गोपालगंज : नगर थाना क्षेत्र के तिरबिरवा गांव में अपराधियों ने हबीब अहमद के पुत्र वार्ड सचिव जावेद मुस्तफा की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। शक के आधार पर तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। हिरासत में लिए गए लोगों को मारने के लिए स्वजन व ग्रामीण पुलिस से उलझ गए। पुलिस के साथ धक्कामुक्की की और पथराव भी कर दिया। इसके बाद सदर डीएसपी संजीव कुमार के नेतृत्व में तीन थानों की टीम मौके पर पहुंची। भीड़ पर सख्ती कर हिरासत में लिए गए लोगों को सुरक्षित थाने लाया गया। लोगों को समझा कर शांत कराया गया। अभी गांव में तीन थानों की पुलिस कैंप कर रही है।   

तीन को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया 

नगर थानाध्यक्ष ललन कुमार ने बताया कि तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। अभी तक हत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। वार्ड सचिव के शरीर पर 21 बार चाकू से वार किया गया है। उसकी एक चप्पल धान के खेत के किनारे मिली है, दूसरी चप्पल वार्ड नंबर दस में फेंकी मिली। मौके से खून के नमूने इकट्ठा किए गए हैं। वार्ड सचिव का मोबाइल गायब है। टेक्निकल सेल की मदद से मोबाइल के अंतिम लोकेशन व अंतिम काल के बारे में पता लगाया जा रहा है। सारण से डाग स्क्वायड को बुलाया है। 

धान के खेत में मिला शव

स्वजन ने बताया कि जावेद मुस्तफा गुरुवार की रात करीब साढ़े दस बजे तक घर पर थे। शुक्रवार की सुबह उनके कमरे में गए तो वह गायब थे। खोजबीन करने पर उनकी एक चप्पल तिरबिरवा वार्ड नंबर 10 में फेंकी मिली। अनहोनी की आशंका पर नगर थाना पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची, तब वार्ड सचिव का शव धान के खेत से बरामद किया। 

Edited By: Akshay Pandey