हाजीपुर, जेएनएन। हाजीपुर (सुरक्षित) लोकसभा क्षेत्र में सोमवार को पुलिस-प्रशासन की कड़ी चौकसी के बीच मतदान संपन्न हो गया। छह विधानसभा क्षेत्रों में तकरीबन 59 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। छिटपुट घटनाओं को छोड़कर कहीं भी कोई अप्रिय घटना नहीं हुई।

इस संसदीय क्षेत्र के 192 नक्सल प्रभावित मतदान केंद्रों पर अद्र्धसैनिक बलों की मौजूदगी रही। मतदान में बाधा डालने के आरोप में विभिन्न मतदान केंद्रों से 11 लोग गिरफ्तार किए गए। जंदाहा में शराब पीते हुए चार युवकों को एसपी खुद पकड़े। मतदान की अवधि में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला दंडाधिकारी राजीव रोशन और पुलिस कप्तान मानवजीत ङ्क्षसह ढिल्लो के नेतृत्व में तमाम प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी श्त लगाते रहे।

मतदान शुरू होने के पूर्व मॉक पोल के दौरान तकनीकी खामियों की वजह से 77 मतदान केंद्रों पर ईवीएम एवं वीवीपैट बदले गए। इससे मतदान पर कोई खास प्रभाव नहीं पड़ा। हाजीपुर में सीधा मुकाबला एनडीए में लोजपा प्रत्याशी पशुपति कुमार पारस और महागठबंधन में राजद प्रत्याशी शिवचंद्र राम के बीच है। मतदान के बाद हाजीपुर के आरएन कॉलेज के परिसर में बनाए गए स्ट्रांग रूम में ईवीएम को जमा कराया जा रहा है। महुआ में मतदान कराकर वापस हाजीपुर लौटने के दौरान पूर्णिया पुलिस बल में तैनात एक महिला सिपाही सुनैना देवी जख्मी हो गईं। हादसे में बाइक चला रहे उनके दामाद की मौत हो गई।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप