आरा, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण के इस दौर में शादी के लिए तैयार जोड़े के लिए खरमास समाप्त होने के बाद लग्न शुरू हो गया है। वाराणसी पंचांग के अनुसार इस साल 22 जनवरी से शहनाई बजनी शुरू हो जाएगी। आठ माह तक शहनाईयों की गूंज के बीच नए जोड़े शादी के परिण्य सूत्र में बंधेंगे। इस साल लग्न वाला माह जनवरी, फरवरी, अप्रैल, मई, जून, जुलाई, नवंबर और दिसंबर है। इसमें सबसे अधिक शुभ लग्न मई महीने में 19 दिन है। जबकि, सबसे कम लग्न नवंबर माह में महज पांच दिन है।

इसी तरह जनवरी में नौ दिन, फरवरी व अप्रैल में 11-11 दिन, जून में 17 दिन, जुलाई में नौ दिन व दिसंबर में 10 दिन शुभ लग्न है। वैसे गत दो साल से कोरोना संक्रमण के कारण फीके पड़ रहे शादी समारोह के रंग में इस बार कोरोना के साथ ओमीक्रोन के खलल पडऩे के डर से नए जोड़े के साथ वर व वधू पक्ष के लोग आशंकित हैं।

स्थानीय रमना मैदान स्थित महावीर मंदिर के महंत सुमन बाबा ने बताया कि इस वर्ष कुल 92 दिन शुभ लग्न है। सावन, भादो, आश्विन व कार्तिक में लग्न नहीं है। वैवाहिक क्रियाएं जैसे सिंदूर दान, कन्यादान आदि स्थिर मुहूर्त में होता है। 19 फरवरी के बाद 15 अप्रैल और 10 जुलाई के बाद 24 नवंबर से लग्न शुरू होगा।

इस वर्ष दो चंद्र व दो सूर्य ग्रहण

इस बार साल में दो चंद्र व दो सूर्य ग्रहण होगा। चंद्र ग्रहण 16 मई व 18 व आठ नवंबर को होगा। इसमें 16 मई वाला भारत में दिखाई नहीं देगा। इसलिए यह मान्य नहीं होगा। जबकि सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल व 25 अक्टूबर होगा। 30 अप्रैल वाला भारत में दिखाई नहीं देगा, जिसके कारण मान्य नहीं है।

नव वर्ष में शादी का लग्न वाला महीना

जनवरी - 20, 21, 22, 23, 25, 26, 27, 28, 29

फरवरी - चार, पांच, छह, नौ, 10, 11, 12, 16, 17, 18, 19

अप्रैल - 15, 16, 17, 18, 19, 20, 21, 22, 23, 27, 28

मई - दो, तीन, चार, नौ, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 24, 25, 26, 31

जून - एक, पांच, छह, सात, आठ, नौ, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 16, 17, 21, 22, 23

जुलाई - दो, तीन, चार, पांच, छह, सात, आठ, नौ, 10

नवंबर - 24, 25, 26, 27, 28

दिसंबर - दो, तीन, चार, सात, आठ, नौ, 13, 14, 15, 16

सात फेरे में कोरोना का फेरा, रहना होगा सावधान

20 जनवरी से लगन प्रारंभ हो जाएगा। कई लोगों ने महीनों पहले से विवाह मंडपों और होटलों ने में बुङ्क्षकग कर रखी है। फिलहाल, कोरोना के बढते मामले के कारण राज्य सरकार ने शादी-विवाह में सीमित लोगों के ही शामिल होने की अनुमति दी है। 21 जनवरी तक के लिए जारी बिहार सरकार की गाइडलाइन के अनुसार सिर्फ 50 लोग ही शादी समारोहों में शामिल हो सकते हैं। जिस तरह से कोरोना के नए मामलों में बढ़ोत्तरी हो रही है, उसमें 21 जनवरी के बाद भी अगले कुछ दिनों तक संख्या को लेकर छूट मिलने की संभावना कम है।

बेटे के रिसेप्शन के लिए शहर के एक होटल में बैंक्वेट हाल बुक करने वाले पडऱी के राजेन्द्र सिं ने बताया कि उन्होंने पांच सौ लोगों के लिए हाल और कैटरिंग बुक किया था। संख्या सीमित होने के बाद उन्हें कार्यक्रम टालना पड़ रहा है, क्योंकि अपने सभी रिश्तेदारों को वो इतनी कम संख्या में शामिल नहीं कर सकते।