पटना, जेएनएन। पश्चिमी चंपारण में जनप्रतिनिधियों का हनक दिखाना कई नई बात नहीं है। बस, मौका मिलना चाहिए। इसी कड़ी में ताजा मामला योगापट्टी इलाके का है, जहां लौरिया के विधायक विनय बिहारी हाथी पर सवार होकर राइफल लहराते नजर आये हैं। इसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। 

दरअसल, विधायक विनय बिहारी हाथी पर सवार होकर मच्छरगांवा के खेल के मैदान में कंस वध मेला देखने पहुंचे थे और हाथी पर बैठकर वह इस कदर मतवाले हो गये कि कभी हवा में राइफल लहराते तो कभी फायरिंग करते, सत्ता के नशे में चूर दिखे। इस दौरान उन्होंने हवा में दो राउंड फायरिंग भी की। हाथ में राइफल लेकर हाथी की सवारी करते विधायक विनय बिहारी को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी।

सूत्रों की मानें तो जिस राइफल का विधायक ने प्रदर्शन किया और फायरिंग की वह भी इनके नाम पर नहीं है।दूसरे शख्स के नाम पर उसका शस्त्र लाइसेंस है। अगर कानून तार-तार करने की बात की जाए तो विधायक ने आर्म्स एक्ट नियमावली का दुरूपयोग किया है, लाइसेंस में वर्णित निर्देशों का भी उल्लंघन हुआ है। पब्लिक प्लेस पर हथियार का प्रदर्शन नहीं करना है, जबकि माननीय विधायक पर कानून तोड़ना गंभीर अपराध को दर्शाता है, जो कि भारतीय शास्त्र अधिनियम में गंभीर सजा का प्रावधान है।

हाफ पैंट पहनकर पहुंचे थे विधानसभा 

विधायक विनय बिहारी कभी हाफ पैंट और बनियान पहनकर विधानसभा पहुंचे थे। उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने गेट पर ही रोक दिया था । 

लौरिया के बीजेपी एमएलए विनय बिहारी अपनी डिमांड पूरी कराने के लिए एक महीने से हाफ पैंट और बनियान पहनकर रह रहे थे। दरअसल, वे तीन साल से वेस्ट चंपारण जिले के अपने असेंबली एरिया में 44 किमी लंबी सड़क बनवाने की मांग कर रहे थे। 

उस समय विनय बिहारी पथ निर्माण विभाग के मंत्री तेजस्वी यादव, सीएम नीतीश कुमार और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को इन तीन सालों में कई बार लेटर लिख चुके थे, लेकिन सड़क नहीं बन सकी। इस अनदेखी के विरोध में 26 अक्टूबर को विनय ने अपने कपड़े उतार दिए और अपना कुर्ता केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को भेज दिया था और अपना पायजामा राज्य के सीएम नीतीश कुमार को भिजवा दिया था।

 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप