पटना, जेएनएन। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बुधवार की शाम पटना पहुंचे। कार्यक्रम के मुताबिक उन्होंने पटना के महावीर मंदिर का दर्शन किया। इसके बाद राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात के बाद पारस अस्पताल पहुंचकर भारत साधु समाज के महामंत्री स्वामी हरिनारायणानंद जी का हाल जाना।
चर्चा का विषय रही योगी और नीतीश की मुलाकात रात में हुई। योगी मुख्यमंत्री आवास पर जाकर बिहार के सीएम नीतीश कुमार से भेंट की। इस दौरान उन्होंने इलाहाबाद में 14 जनवरी से लगने वाले कुंभ मेले से जुड़ा प्रतीक चिन्ह नीतीश कुमार को भेंट किया और उन्हें मेले में शामिल होने का आमंत्रण दिया। मुलाकात के दौरान बिहार के सीएम के साथ पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव में मौजूद रहे।

इसके पहले महावीर मंदिर पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जनकपुर में आयोजित विवाह पंचमी समारोह और पटना के महावीर मंदिर का दर्शन कर मैं अपने को सौभाग्यशाली मानता हूं। सांस्कृतिक संबंधों से दो राज्यों की दोस्ती बढ़े इससे बेहतर और क्या हो सकता है।

योगी आदित्यनाथ आज रात्रि विश्राम राजभवन में करेंगे और गुरुवार की सुबह लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे।

योगी के आने से विवाह पंचमी महोत्सव का बढ़ा महत्व

मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम और जगत जननी जानकी के विवाह पंचमी महोत्सव को ले जानकी मंदिर से लेकर पूरा जनकपुरधाम विवाह के मंगल गीतों से गुंजायमान रहा। इस बार उत्तर-प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के श्री राम बरात के दिन जनकपुरधाम आने से विवाह पंचमी महोत्सव का महत्व और बढ़ गया। मुख्यमंत्री योगी के आगमन को ले जनकपुर के लोग उत्साहित दिखे।

राम मंदिर प्रांगण में धूमधाम से पूजा मटकोर का कार्यक्रम का संपन्न हुआ। इस मौके पर गंगा सागर से मिट्टी लाने का अनुष्ठान किया गया। मिथिला परंपरा के अनुसार हुए इस पूजा-मटकोर में हजारों लोग शामिल हुए। इससे पूर्व सोमवार को धूमधाम से तिलकोत्सव संपन्न हुआ था।

बुधवार को श्री राम-जानकी विवाहोत्सव मनाया गया। इसमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए। हर तीन वर्ष के अंतराल पर अयोध्या से जनकपुर बराती आते हैं।  जानकी मंदिर के मुख्य पुजारी राम रोशन दास ने कहा कि नेपाल और भारत के विभिन्न स्थानों से रामजानकी विवाह पंचमी महोत्सव में भाग लेने के लिए तीर्थयात्रियों के आने का क्रम जारी है।

विवाह पंचमी महोत्सव को लेकर जनकपुर का हर मठ मंदिर सीताराम जाप एवं मंगल गीत से गुंजायमान हो रहा है। जनकपुर के जानकी मंदिर, राम मंदिर, जनक मंदिर, रत्न सागर, झूलन कुंज, सुंदर सदन, बिहार कुंड सहित सभी मठ मंदिरों में सीताराम का अखंड धुन हो रहा है।

सभी मठ-मंदिरों में बाहर से आए साधु संत और श्रद्धालु ठहरे हैं। कई खाली मैदान में भी श्रद्धालु ठहरे हुए हैं। वहीं, अयोध्या से आनेवाली बारात एवं यूपी के सीएम योगी के जनकपुर आगमन को लेकर जनकपुर के सभी होटल, लॉज और धर्मशाला बुक हो चुके हैं।

रंगीन रोशनियों से सजा जानकी मंदिर अदभुत छटा बिखेर रहा है। अयोध्या के अलावा विभिन्न स्थानों के साधु-संत भी पहुंच रहे हैं।  तीर्थयात्रियों के रूप में विवाह महोत्सव में भाग लेने आए लोगों के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Kajal Kumari