पटना [जेएनएन]। चारा घोटाला मामले में राजद सुप्रीमो लालू यादव को बेल नहीं मिलने से रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ​काफी निराश हैं। उन्होंने कहा कि लालू यादव को बेल मिलती तो बिहार में महागठबंधन और अधिक मजबूत होता। उन्होंने राम मंदिर निर्माण को लेकर बीजेपी पर भी निशाना साधा। कहा, यह बीजेपी का चुनावी स्टंट है। उन्होंने नीच के बहाने नीतीश कुमार को भी आड़े हाथों लिया। 

दरअसल महागठबंधन में शामिल तमाम घटक दलों को काफी उम्मीद थी कि लालू यादव को झारखंड हाइकोर्ट से बेल मिल जाएगी। लेकिन ऐसा नहीं हो सका। कोर्ट ने बेल देने से साफ इनकार कर दिया। इससे सबसे ज्यादा झटका राजद को लगा। वहीं महागठबंधन में शामिल घटक दलों को भी झटका लगा है। 

इसे लेकर रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा भी काफी निराश हैं। उन्होंने कहा कि राजद सुप्रीमो को बेल मिलती तो महागठबंधन में और अधिक मजबूती आती। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि कानून है और कोर्ट में कानून के अनुसार काम होता है. 

उन्होंने कहा कि राम मंदिर मामले को लेकर बीजेपी पर तंस कसने से भी नहीं चूके। कहा कि राम मंदिर केवल चुनाव भर के लिए रहता है। राम मंदिर बनाने की नियत कभी बीजेपी की नहीं रही है। 

उन्होंने नीच वाले बयान पर एक बार फिर नीतीश कुमार को घेरा। उन्होंने सवाल दागते हुए कहा कि क्या किसी सीएम को इस तरह का घटिया बयान देना शोभा देता है? उन्होंने कहा कि यह तो हद है कि मुख्यमंत्री किसी को नीच तो किसी को सड़क छाप कह देते हैं। वे अपनी बौखलाहट में काफी नीचे उतर गए हैं।

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप