पटना, जेएनएन। बाढ़ और जलजमाव के बाद पानी घटने से पूरे बिहार में डेंगू का प्रकोप जारी है। सूबे के डेंगू की चपेट में आने पर केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को पटना स्थित पीएमसीएच सहित जलजमाव वाले इलाके राजेंद्र नगर का दौरा किया और अस्पताल के अधिकारियों और डॉक्टरों को नसीहत देते हुए कहा कि किसी को किसी तरह की कोई तकलीफ नहीं होनी चाहिए।

पीएमसीएच पहुंचे रविशंकर प्रसाद ने अस्पताल के सभी वार्डों का भी दौरा किया। मीडिया कर्मियों से बात करते हुए केंद्रीय कानून मंत्री ने कहा कि बाढ़ और जलजमाव के बाद बिहार के डेंगू की चपेट में आने के कारण स्वास्थ्य सेवाओं का जायजा लेने आया हूं।

उन्होंने बताया कि अस्पताल में 119 मामले डेंगू के सामने आये थे। इनमें से अब भी 16 अस्पताल में भर्ती हैं।इस बीमारी के प्रकोप को नियंत्रित करने के लिए केंद्र और राज्य मिल कर काम कर रहे हैं। इस प्राकृतिक आपदा से हम जल्द ही निपट लेंगे। उन्होंने जलजमाव इलाके में ब्लीचिंग पावडर का छिड़काव किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पटना में सीवर सिस्टम में गड़बड़ी है जिसके कारण बाढ़ की समस्या झेलनी पड़ी है। उन्होंने कहा,  मैंने फरक्का डैम के सारे गेट खुलवा दिए थे साथ ही एयर ड्रॉप की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही कोल इंडिया से पंप मंगाई गई है ताकि पानी जल्दी निकाला जा सके। प्रसाद ने कहा कि पटना के लोग पीड़ा में हैं और वे उनके साथ हैं।

रविशंकर प्रसाद ने इस दौरान किसी भी तरह की राजनीतिक बयानबाजी नहीं दी और कहा कि हमारी जनता अभी तकलीफ में है और अपनी जनता के साथ हूं। 

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस