पटना, जेएनएन। बीजेपी के फायरब्रांड नेता और सांसद गिरिराज सिंह ने अब अपनी ही पार्टी के साथ  प्रेशर पॉलिटिक्स करना शुरू कर दिया है। नवादा से सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि अगर मुझे नवादा से टिकट नहीं मिलता तो मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा। इससे लगता है कि भाजपा नेता गिरिराज सिंह किसी दूसरी जगह से लोकसभा का चुनाव लड़ने को तैयार नहीं हैं।

जानकारी के मुताबिक गिरिराज सिंह का इस बार नवादा से टिकट कटना पक्का है। बताया जा रहा है कि इस सीट पर एनडीए की सहयोगी लोजपा दावा कर रही है, क्योंकि मुंगेर जदयू के खाते में जाने वाला है और शायद इसका ही डर गिरिराज को बना हुआ। नवादा के बदले गिरिराज को दूसरी जगह से टिकट दिया जा सकता है। लेकिन दूसरी जगह से उनको हार का डर बना हुआ है।

बता दें कि कई बार उनके संसदीय क्षेत्र के लोगों ने गिरिराज के लापता होने का पोस्टर लगाया था। इसके बाद ही गिरिराज वहां पर एक्टिव हो गए। वह कई माह से चुनाव की तैयारी में जुटे हुए थे। लेकिन सीट बंटवारे में उनको लग रहा है कि उनका टिकट इस बार नवादा से कट जाएगा। जिसके कारण अब वे पहले से ही प्रेशर पॉलिटिक्स करने लगे हैं।

वहीं गिरिराज सिंह ने पत्रकार पह हुए हमले पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हिदायत देते हुए कहा है कि सीएम खुद कहते हैं कि लॉ एंड अॉर्डर से समझौता नहीं करते हैं तो एेसे मामलों को सीएम को खुद गंभीरता से देखना चाहिए। 

मीसा भारती के बयान पर गिरिराज सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि राजनीति में हिंसा की जरुरत नहीं है। उन्होंने रामकृपाल यादव के लिए एेसा बयान दिया है, कहीं जनता राजनीति से उन्हें ही ना काट दे।

राजद सुप्रीमो लालू यादव के ट्वीट पर गिरिराज ने कहा कि जबतक सांसे चलती है कोई मुर्दा नहीं समझता है, वो तो खुद आग लगाने का काम करने वाले हैं। राम मंदिर मुद्दे पर उन्होंने कहा कि लोग संसद-अदालत देखना छोड़ दें, मंदिर बन जाएगा। 

 

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस