पटना । मनेर निवासी पॉलीटेक्निक के छात्र समीर सागर की गला दबाकर हत्या करने और नाले में शव फेंकने के मामले में मंगलवार की रात जक्कनपुर थाने की पुलिस ने मीठापुर बस स्टैंड के पास से दो लोगों को हिरासत में लिया है। वे बसों की टिकट बुकिंग का काम करते हैं। इकलौती प्रत्यक्षदर्शी समीर की प्रेमिका द्वारा बताए गए हुलिए के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई की। इधर, पुलिस हिरासत में लिए गए समीर के दोस्त मंटू उर्फ भूतनाथ और उसकी प्रेमिका से भी लगातार पूछताछ कर रही है। हालांकि पुलिस को अब तक कोई ठोस सफलता नहीं मिली है। सिटी एसपी (पूर्वी) राजेंद्र कुमार भील ने बताया कि गहनता से अनुसंधान किया जा रहा है।

क्या है मामला :

17 अक्टूबर को समीर सागर दोस्त मंटू के साथ पटना आया। यहां उसकी प्रेमिका भी मुजफ्फरपुर से आई थी। तीनों लोगों ने साथ में दुर्गा पूजा का मेला घूमा और देर रात प्रेमिका को छोड़ने के लिए समीर मीठापुर बस स्टैंड आया। उसके साथ मंटू भी था। उसे स्टैंड में ही छोड़कर समीर प्रेमिका के साथ चंद्रगुप्त प्रबंधन संस्थान के पीछे चला गया, जहां गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई और शव को नाले में फेंक दिया गया। जक्कनपुर थाने की पुलिस ने 20 अक्टूबर को उसका शव बरामद किया था। परिजनों के बयान पर उसके दोस्त मंटू को हिरासत में लिया गया, फिर पुलिस मुजफ्फरपुर से युवती को पकड़कर पटना लाई थी।

- - - - - - - - - - - - - - -

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप