जागरण संवाददाता, अरवल: राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द के साथ प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी से मिलना एक सपने जैसा था, जो अब पूरा होने वाला है। इससे भी ज्यादा खुशी इस बात की है कि हम पीएम और राष्ट्रपति को अपने सामने देख सकेंगे। उनके साथ भोजन करना तो मेरे लिए जहां जीतने जैसा होगा। यह कहना है बिहार के अरवल जिले के उन दो छात्रों का, जो इस बार देश की राजधानी दिल्ली में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड के साक्षी बनेंगे। सदर प्रखंड के महुअरी गांव निवासी राजकुमार शर्मा के पुत्र प्रिंस कुमार और बभन विगहा गांव निवासी जनार्दन शर्मा के पुत्र सचिन कुमार का चयन दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने के लिए किया गया है। दोनों एनसीसी कैडेट हैं। परेड में भाग लेने के बाद ये छात्र राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के साथ दोपहर का भोजन भी करेंगे। उत्साह से लबरेज प्रिंस और सचिन ने कहा कि इन्हीं यादों के दम पर भविष्य में आगे बढ़ने का प्रयास करेंगे। 

  • - दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होंगे दोनों छात्र 
  • - बिहार और झारखंड से 57 कैडेट का हुआ है गणतंत्र दिवस कार्यक्रम के लिए चयन 

एक लाख तीस हजार कैडेटों का चयन

छात्रों ने बताया कि छह माह तक उन्होंने लगातार बारह एनसीसी कैंपों में भाग लिया। कैंप में एक लाख तीस हजार कैडेटों में से बिहार और झारखंड से 57 कैडेट का चयन 26 जनवरी को दिल्ली में राजपथ पर होने वाली परेड के लिए किया गया है, जिसमें अरवल के भी दो कैडेट का चयन हुआ है। इसको लेकर अरवल वासियों में हर्ष व्याप्त है। प्रिंस कुमार और सचिन कुमार ने कहा कि यह एक सपने के सच होने जैसा है। दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने मेरे हमारे लिए बड़ी बात होगी। उन्होंने कहा कि इस पल को यादगार बनाना है। 

Edited By: Akshay Pandey