उचकागांव (गोपालगंज), जेएनएन ।  बचपन में ही आवाज चली गई थी। इस वजह से दो महीने पहले भटककर उचकागांव थाना क्षेत्र के पाखोपाली पहुंची उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के अहिरौली बाजार थाना क्षेत्र के घोघरा गांव निवासी राम सहाय की पत्नी सरिता देवी गांव वालों को अपना नाम व पता नहीं बता सकीं। गांव के सुरेश शर्मा ने अपने घर में शरण दी। ग्रामीणों तथा पुलिस ने गूंगी महिला के घर के बारे में पता करने की काफी कोशिश की, लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। शनिवार के अंक में दैनिक जागरण ने महिला के बारे में खबर प्रकाशित की तो कुछ लोगों ने इसे देख पहचान लिया। उन्होंने इसकी सूचना महिला के पति को दी। रविवार को महिला के पति बच्चे के साथ पाखोपाली गांव पहुंच गए। पति व बच्चे को देखकर महिला की आंखें भर आईं। महिला की छलकती आंखों ने कह दिया- थैंक यू दैनिक जागरण।

गांव वालों के अनुसार दो माह पहले गूंगी महिला उचकागांव थाना क्षेत्र के पाखोपाली गांव में भटकते हुए आ गई थी। नाम और पता बता नहीं पाई। सुरेश शर्मा ने घर में शरण देते हुए सूचना थानाध्यक्ष किरण शंकर को दी। जागरण में खबर और फोटो देखकर कुछ लोगों ने महिला की उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के अहिरौली बाजार थाना क्षेत्र के घोघरा गांव निवासी राम सहाय की पत्नी सरिता देवी के रूप में पहचान की। महिला के पति राम सहाय को इसकी जानकारी दी। आज ग्रामीण सरिता देवी को उनके पति व बच्चों के साथ थाना ले गए, जहां कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद सरिता देवी को उनके पति रामसहाय का सौंप दिया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021