पटना, जेएनएन। जिले के बाढ़ अनुमंडल से पुलिस हिरासत से दो अपराधी हथकड़ी के साथ फरार हो गये थे । घटना के बाद से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ था और फरार अपराधियों की जोर-शोर से तलाश की जा रही थी। काफी देर के बाद पुलिस ने दोनों अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। 

घटना सोमवार की अल सुबह की है, जब एक ही हथकड़ी से बंधे दो अपराधी एक साथ फरार हो गए।  इस वारदात के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। अनुमंडल पुलिस की पूरी टीम अपराधियों की छापेमारी में जुट गयी । काफी मशक्कत के बाद दोनों को पंडारक पुलिस के सहयोग से दबोच लिया गया है । तब जाकर पुलिस ने राहत की सांस ली ।

कहा जा रहा है कि दो दिन पूर्व शनिवार की देर रात्रि पटना क्यूल ईएमयू ट्रेन डकैती काण्ड में चार बदमाशों को रेल पुलिस ने बाढ़ स्टेशन से गिरफ्तार किया था। मामले में सात बदमाशों की संलिप्तता का खुलासा हुआ था । पुलिस की घेराबंदी में तीन बदमाश भागने में सफल हो गए थे ।

जानकारी में बताया गया है कि सारे बदमाश भागलपुर जिला के सुल्तानगंज क्षेत्र के रहने वाले हैं और इनपर दर्जन से ज्यादा हत्या समेत कई संगीन मामले दर्ज हैं । पुलिस मामले की छानबीन कर रही है ।

बताया जा रहा है कि बाढ़ रेल थाने में हाजत नहीं है, जिस वजह से कैदियों को रखने में परेशानी होती है। इसी वजह से दोनों अपराधी फरार हो गए। वहीं इसमें रेल पुलिसकर्मियों की लापरवाही भी सामने आ रही है, जिसमें कहा जा रहा है कि पुलिस ने सतर्कता नहीं बरती और अपराधियों पर विशेष निगरानी नहीं रखी जिससे घटना हुई। घटना के बाद से विभागीय कार्रवाई और मामले की जांच भी शुरु हो गई है।

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप