पटना, जेएनएन। राजधानी के बाढ़ स्टेशन से सोमवार को दो बदमाश हथकड़ी समेत फरार हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस कर्मियों में हड़कंप मच गया। बड़ी बात से रही कि मुस्तैद होकर पुलिस ने चार घंटे में फरार अपराधियों का गिरफ्तार कर लिया।

पटना-किऊल सवारी गाड़ी में लूटपाट करने वाले चार बदमाशों को रेल पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार करने के बाद बाढ़ स्टेशन पर रेल पुलिस पोस्ट में रखा था। इनमें मौका देखकर दो बदमाश अल सुबह हथकड़ी समेत पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गए। जानकारी पर पुलिसकर्मियों के होश उड़ गए। आनन-फानन में छापेमारी कर चार घंटे बाद पंडारक पुलिस ने छपेरातर गांव के समीप रेल ट्रैक के पास से बदमाश रवि कुमार और रूपेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया।

पटना-किऊल पैसेंजर ट्रेन में की थी लूटपाट

सभी बदमाश भगलपुर के सुल्तानगंज थाना के आदर्श नगर कॉलनी के निवासी हैं। जानकारी के अनुसार, शनिवार की देर रात चार लुटेरों ने पटना-किऊल पैसेंजर ट्रेन में यात्रियों से लूटपाट की थी। घटना को अंजाम देकर सभी बदमाश पंडारक स्टेशन के समीप उतरकर फरार हो गए थे। यात्रियों ने मोकामा स्टेशन पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने बाढ़ रेलवे स्टेशन के चार नंबर प्लेटफॉर्म के पूर्वी छोर से यात्रियों से लूटे गए सामान के साथ बदमाश रवि कुमार, रूपेश कुमार, रानू कुमार और राहुल कुमार को गिरफ्तार किया था। बाढ़ जीआरपी में हाजत नहीं होने के कारण सभी लुटेरों को बाढ़ रेल पुलिस पोस्ट में रखा गया था। सोमवार की अल सुबह पुलिसकर्मियों के झपकी लेने पर बदमाश रवि कुमार और रूपेश कुमार हथकड़ी लगे रस्से को काटकर फरार हो गए।

सुपारी लेकर एक युवक की बदमाशों ने की थी हत्या गिरफ्तार लुटेरे रवि कुमार, रूपेश कुमार, रानू कुमार और राहुल कुमार के बारे में पुलिस ने जब सुल्तानगंज़ रेल पुलिस से जानकारी ली तो पता चला कि चारों बदमाश के विरुद्ध दर्जनभर आपराधिक मामले दर्ज हैं। बदमाशों ने कुछ माह पूर्व एक युवक की एक-एक कर 11 गोली मारकर हत्या कर दी थी। लुटेरों का आपराधिक इतिहास जानने के बाद भी नहीं सचेत हुए पुलिसकर्मी लुटेरों का आपराधिक इतिहास जानने के बाद भी पुलिस सचेत नहीं हुई और उन्हें बाढ़ स्टेशन पर बने पुलिस पोस्ट कार्यालय में रखा गया।

आंख झपकी और फरार हो गए बदमाश

ड्यूटी पर तैनात जवान की सुबह आंख झपकी और लुटेरे हथकड़ी लगे रस्सी काटकर फरार हो गए। जवान को न तो रस्सी काटने का पता चला और न भागने का। रस्सी कटते ही रूपेश और रवि फरार हो गए, रानू और राहुल को रस्सी काटने में सफल नहीं रहे। बदमाशों को नहीं थी रास्ते की जानकारी बदमाश हथकड़ी लगे रस्सी काटकर पुलिस पोस्ट से निकल तो गए, लेकिन उन्हें आगे के रास्ते के बारे में जानकारी नहीं थी।

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप