पटना, जेएनएन। नागरिकता संशोधन कानून (CAA), राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (NRC)  के बाद अब कथित NPR (National population register), को लेकर बहस छिड़ गयी है। इसपर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट कर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला है और लिखा है कि NRC और 2021 की भारतीय जनगणना पर लाखों करोड़ खर्च होंगे। सुना है NPR में अनेकों अलग-2 कॉलम जोड़ रहे है लेकिन इसमें जातिगत जनगणना का एक कॉलम और जोड़ने में क्या दिक्कत है?‬

लालू ने ट्वीट कर पूछा है कि ‪क्या 5000 से अधिक जातियों वाले 60% अनगिनत पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदू नहीं है जो आप उनकी गणना नहीं चाहते?‬ अगर पिछड़ों-अतिपिछड़ों की जातीय जनगणना नहीं होगी तो उन वर्गों के शैक्षणिक, आर्थिक और सामाजिक उत्थान एवं कल्याण के लिए योजनाएं कैसे बनेगी? बजट का प्रावधान कैसे होगा?

राजद सुप्रीमो ने आगे लिखा है कि आप जनगणना में कुत्ता-बिल्ली, हाथी-घोड़ा, सुअर-चीता सब गिनते है। सभी धर्मों के लोगों को गिनते है लेकिन पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदुओं को नहीं गिनते? क्यों? क्योंकि पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदू संख्याबल में सबसे ज़्यादा है।

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा है कि उन्हें डर है कि अगर पिछड़े हिंदुओं की आबादी के सही आंकड़े आ गए तो लोग उन आंकड़ों के आधार पर जागरुक होकर अपना हक़ मांगने लगेंगे। बहुसंख्यक हिंदुओं को पता लग जाएगा कि आरएसएस का नागपुरिया गैंग उन बहुसंख्यक हिंदुओं के सभी हक़-अधिकारों का हनन कर पिछड़े हिंदुओं का सारा हिस्सा खा रहा है।

लालू ने चेताया है कि साथियों, मुस्लिम तो बहाना है, दलित-पिछड़ा असल निशाना है। हमने तत्कालीन मनमोहन सरकार से 2010 में जातीय जनगणना को स्वीकृति दिलवाई थी लेकिन उसपर हज़ारों करोड़ खर्च करने के बाद वर्तमान सरकार ने वो सारे आंकड़े छुपा लिए और उन्हें कभी सार्वजनिक नहीं किया। हमारी पार्टी सड़क से संसद तक यह लड़ाई लड़ती रहेगी।

राबड़ी ने जल-जीवन हरियाली यात्रा को ले सीएम नीतीश पर कसा तंज

लालू के ट्वीट के साथ ही उनकी पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने बिहार की नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए ट्वीट कर लिखा है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ढोल नगाड़ा भोंपू लेकर “जल जीवन हरियाली” नामक 24,500 करोड़ की राजनीतिक यात्रा पर है।‬

15 वर्षों से पटना मे जलजमाव, चमकी बुखार, ग़रीबी, बाढ़, पलायन और बेरोजग़ारी का निदान नहीं ढूंढने वाले सीएम ग़रीब राज्य मे इतनी महंगी यात्रा के नाम पर चुनावी साल में भ्रष्टाचारिक प्रदूषण फैला रहे है।‬

 

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस