नवादा [जेएनएन]। बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू होने के बावजूद बावजूद शराब का कारोबार धड़ल्ले से जारी है। लोग शराब पी भी रहे हैं। नवादा जिले में शराब पीने के जुर्म में शिबू यादव नाम के शख्स को गिरफ्तार कर 19 नवंबर को जेल भेज दिया गया था, लेकिन वहां उसकी हलात खराब होने लगी।

शिबू की खराब हालत को देखते हुए उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां अस्पताल कर्मियो ने उसे सर्जिकल वार्ड मे रखकर इलाज किया। रात भर शराबी हल्ला करता रहा। लोगो को गाली ग्लौज करता रहा। तब कैदी को पुलिस कर्मी ने हाथ पांव बेड मे बांध दिया। इसके बावजूद वह सभी को गाली-ग्लौज करता रहा।

वार्ड मे कई महिलाओ का बंध्याकरण का आॅपरेशन हुआ था। कैदी के इस हरकत से महिलाओ को शर्मसार होना पड़ा। वार्ड मे सभी मरीज सो नही पाये।

पुलिस ने बताया कि तीन दिन पहले पकरीबरावां मे नशे की हालत मे पकड़ा गया था, इसके बाद उसे जेल भेज दिया गया। लेकिन शराब नही मिलने के कारण वह पागलों जैसी हरकतें करने लगा। जेल मे भी काफी शोर करता था। जेल डाॅक्टर ने इलाज के लिए सदर अस्पताल रेफर कर दिया। कै‍दी की हालत को बिगड़ता देख उसे पटना रेफर कर दिया गया है।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस