पटना। बिहार राज्य पथ परिवहन निगम की बसें कोरोना जागरूकता का जरिया बनेगी। राज्य में चलने वाली सभी बसों पर आकर्षक इमोजी और स्लोगन के जरिए कोरोना संक्रमण से बचाव का प्रचार-प्रसार होगा। परिवहन सचिव संजय अग्रवाल ने बताया कि सोमवार एक जून से ही राज्य में सार्वजनिक परिवहन के सभी वाहनों को चलाने की इजाजत दे दी गई है।

उन्होंने कहा कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट वाहनों में अंदर एवं बाहर कोविड-19 के संक्रमण से बचाव संबंधी स्टीकर व स्लोगन लगाए जाएंगे। साथ ही जिला प्रशासन के माध्यम से यात्रियों के बीच पम्पलेट बांटे जाएंगे। उन्होंने आज बांकीपुर बस स्टैंड का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने डीटीओ, एमवीआइ, बस डिपो मैनेजर, सभी ड्राइवर व कंडक्टर को यात्रा के क्रम में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए परिवहन विभाग द्वारा तय प्रावधानों का पालन कराने के निर्देश दिए।

परिवहन सचिव ने कहा कि पटना के साथ अन्य जिलों में सोमवार से बस, ऑटो, ई रिक्शा, टैक्सी, ओला, उबर आदि का परिचालन शुरू हो गया है। पटना से लगभग 200 बसों का परिचालन किया गया है। उन्होंने कहा कि अभी राज्य के अंदर बसें चलनी शुरू हुई हैं। अंतरराज्यीय बस चलाने के लिए दूसरे राज्यों से सहमति मिलने के बाद बसें चलाई जाएंगी।

बसों में फिजिकल डिस्टेंसिंग, साफ-सफाई सुनिश्चित कराने के लिए सभी जिलों के डीएम और एसपी को निर्देश दिए गए हैं। संजय अग्रवाल ने कहा कि यात्री यात्रा के दौरान मास्क पहनना ना भूलें। बस में खड़े होकर यात्रा न करें। निर्धारित सीट के अतिरिक्त बैठने की अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा जो बसें ओवरलोड लेकर चलेंगी उन पर कार्रवाई की जाएगी। बसों को चलाने के पहले और बाद में इन्हें सैनिटाइज किया जाएगा।

- बिहार की बसों पर लगाए जाएंगे आकर्षक स्टीकर

- रात नौ बजे के बाद बस स्टैंड से नहीं होगा परिचालन

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस