पटना [जेेएनएन]। चौदह वर्षों के इंतजार के बाद महाराजगंज-मशरक नए रेलखंड पर इसी माह से ट्रेन का परिचालन शुरू हो जाएगा। इसके लिए मुख्य सुरक्षा आयुक्त एके जैन ने गुरुवार को महाराजगंज से मशरक तक रेल खंड का निरीक्षण मोटरट्रॉली से किया।

मुख्य सुरक्षा आयुक्त के साथ मुख्य प्रशासनिक पदाधिकारी ललन मोहन झा, डीआरएम एसके झा, मुख्य इंजीनियर कैलाश सिंह, उप मुख्य इंजीनियर बीके सिंह सहित अनेक पदाधिकारी मौजूद रहे।

मुख्य सुरक्षा आयुक्त के निरीक्षण के बाद अब यह तय माना जा रहा है कि उद्घाटन की तिथि मुकर्रर कर दी जाएगी। इसके साथ ही इस क्षेत्र के लोगों की 14 वर्षो का इंतजार खत्म होगा। क्षेत्र के लोग अब ट्रेन से सफर करेंगे। 

इससे पहले मशरक जंक्शन से महाराजगंज के लिए रेलवे ट्रैक पर 120 किमी प्रति घंटा की चाल से ट्रायल इंजन चलाया गया था। मुख्य संरक्षा आयुक्त द्वारा रेलखंड के निरीक्षण से एक दिन पूर्व ट्रायल इंजन के स्पीड को देख कई गांव के लोग अपने घर से बाहर निकल गए।

रेलवे सूत्रों के अनुसार मशरक-महाराजगंज नई रेल खंड पर इसी माह से सवाड़ी गाड़ी दौड़ने लगेगी। रेलवे के मुख्य सुरक्षा आयुक्त एके जैन गुरुवार को इस नई रेल खंड का निरीक्षण मोटर ट्राली से करेंगे। निरीक्षण के दौरान मुख्य सुरक्षा आयुक्त के साथ रेलवे के कई वरीय अधिकारियों का दल भी होगा।

लम्बे इंतजार के बाद मशरक-महाराजगंज नई रेलखंड पर ट्रेन चलने का रास्ता साफ हो गया है। मशरक -महाराजगंज नई रेलखंड निर्माण कार्य पूर्ण हो गया है। ट्रेन की स्पीड 120 किमी प्रति घंटा होगी। मशरक-महाराजगंज नई रेलखंड पर इसी माह से ट्रेन चलने की खबर से लोगों में खुशी का माहौल है।

By Kajal Kumari